23 फरवरी से पुरानी पेंशन बहाली को लेकर मंडी के सेरी मंच से शुरु होगी पदयात्रा #news4
February 21st, 2022 | Post by :- | 109 Views

शिमला : न्यू पेंशन स्कीम कर्मचारी महासंघ पुरानी पेंशन योजना बहाली को लेकर  23 फरवरी से चलो शिमला पदयात्रा शुरू करने जा रहा है। यह पदयात्रा 3 मार्च को शिमला पहुंचेगी। इसके बाद विधानसभा में एक लाख कर्मी घेराव करेंगे। राज्य प्रेस सचिव अजय बन्याल ने जानकारी देते हुए कहा कि प्रदेश में पुरानी पेंशन बहाली का मुददा अब जन आंदोलन बन चुका है। प्रदेश सरकार ने धर्मशाला विधानसभा सत्र के दौरान पुरानी पेंशन बहाली को लेकर एक कमेटी के गठन की अधिसूचना जारी की थी। लेकिन आज तक उस कमेटी का गठन प्रदेश सरकार नहीं कर पाई है। न्यू पेंशन स्कीम कर्मचारी महासंघ तब तक अपना आंदोलन जारी रखेगा जब तक प्रदेश में पुरानी पेंशन बहाल नहीं हो जाती है।

एक कर्मचारी 25 से 30 वर्ष तक सरकारी सेवाएं देता है तो पुरानी पेंशन के योग्य नहीं रहता है, लेकिन एक चुना हुआ प्रतिनिधि कई पेंशन लेने के योग्य हो जाते है। अगर सरकारों को न्यू पेंशन स्कीम इतनी ही सही लगती है तो स्वयं को भी न्यू पेंशन में शामिल करें। अन्यथा पुरानी पेंशन बहाली करके जन भावनाओं की कद्र करें। राज्य प्रेस सचिव अजय बन्याल ने बताया कि चलो शिमला घेराव में प्रदेश के हर कोने से कर्मचारी हिस्सा लेने वाले है। पदयात्रा और चलो शिमला की तैयारियों को लेकर ब्लॉक, जिला और राज्य स्तर की ईकाईयों ने तैयारियां शुरू कर दी है। पदयात्रा की अगुवाई न्यू पेंशन स्कीम कर्मचारी महासंघ के प्रदेशाध्यक्ष प्रदीप ठाकुर करेंगे। इसके साथ ही संबधित ब्लॉक के पदाधिकारी इस पदयात्रा में हिस्सा लेंगे।

पदयात्रा का रूट

पहला दिन 23 फरवरी 2022
23 फरवरी को मंडी के सेरी मंच से शुरू र होगी जोकि पहले दिन जवाहर पार्क में पहुंचेगी और कुल 20 किलोमीटर की दूरी तक करने के बाद यहीं पर रात्रि ठहराव होगा।
दूसरा दिन 24  फरवरी 2022 
जवाहर पार्क से पदयात्रा दूसरे दिन चलेगी और 23 किलोमीटर की दूरी तय करने के बाद सलापड़ पहुंचेगी। रात्रि ठहराव सलापड़ में होगा।
तीसरा दिन 25 फरवरी 2022
तीसरे दिन पदयात्रा सलापड़ से चलेगी और बिलासपुर के सुंगल में 20 किलोमीटर की दूसरी तय करके पहुंचेगी। रात्रि ठहराव सुंगल में होगा।
चौथा दिन  26 फरवरी 2022
चौथे दिन सुंगल से पदयात्रा जिला बिलासपुर के नम्होल में 22 किलोमीटर की दूरी तय करने के बाद पहुंचेगी। रात्रि ठहराव नम्होल में ही होगा।
पांचवे दिन 27  फरवरी 2022
नम्होल से पदयात्रा षुरू होते हुए जिला सोलन के दाड़लाघाट में 15 किलोमीटर की दूरी तय करने के बाद पहुंचेगी। रात्रि ठहराव दाड़लाघाट में होगा।
छठे दिन 28 फरवरी 2022
छठे दिन पदयात्रा दाड़लाघाट से षुरू होते हुए जिला सोलन के  गलोग में 18 किलोमीटर की दूरी तय करके पहुंचेगी। रात्रि ठहराव गलोग में होगा।
सातवां दिन 1 मार्च 2022
सातवें दिन पदयात्रा  गलोग से शुरू होकर  जिला शिमला के  घनाहटटी में 10 किलोमीटर की दूरी तय करके पहुंचेगी। रात्रि ठहराव घनाहटटी में ही होगा।
आठवें दिन 2 मार्च 2022
आठवें दिन पदयात्रा घनाहटटी से शुरू होते हुए 10 किलोमीटर की दूरी तय करने के बाद बा टूटू  पहुंचेगी। और रात्रि ठहराव टूटू में ही होगा।
नौवें दिन 3 मार्च 2022 
पदयात्रा टूटू से शुरू होकर विधानसभा तक पहुंचेगी। जहां पर विधानसभा के बाहर प्रर्दशन किया जाएगा।

सोशल मीडिया की मदद से जन जन तक पहुंचाएंगे पदयात्रा और घेराव

न्यू पेंशन स्कीम कर्मचारी महासंघ ने फैसला किया कि 23 फरवरी से शुरू होने वाली पदयात्रा को लाइव सोशल मीडिया के सभी प्लेटफार्म पर दिखाया जाएगा। जिसमें फेसबुक, टवीटर, इंस्टाग्राम, यूटयूब मुख्य रूप से शामिल होंगे। न्यू पेंशन स्कीम कर्मचारी महासंघ की आईटी टीम ने पदयात्रा और घेराव को लेकर अपनी बैठकें शुरू कर दी है। गूगल मीट के माध्यम से बैठकों को आयोजन हो रहा है। आईटी इंचार्ज पंकज शर्मा, आईटी को इंचार्ज अल्का गिल और आईटी को इंचार्ज पवन ठाकुर प्रचार प्रसार की पूरी रणनीति बना रहे है। महासंघ के हर सदस्य पदयात्रा और घेराव से जुड़ी पोस्टें सांझा करेंगा। ताकि जन जन तक आंदोलन पहुंच सके।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।