कोरोना के मरीजों को जम्मू कश्मीर भेज रहा है PAK, पुलिस और सेना ने बढ़ाई सतर्कता
April 22nd, 2020 | Post by :- | 187 Views
news4himachal

नई दिल्ली। कोरोना वायरस से एक तरफ तो पुरे देश निपटने में लगे है वही, जम्मू कश्मीर के डीआईजी दिलबाग सिंह ने बुधवार को बताया कि जम्मू कश्मीर में पाकिस्तान अब कोरोनावायरस का आतंक फैलाना चाहता है। इसके लिए पाकिस्तान कोरोना के मरीजों को जम्मू कश्मीर भेज रहा है। दिलबाग सिंह ने बताया कि कुछ दिनों पहले खुफिया एजेंसियों को इसकी सूचना मिली थी, पीओके में इसके लिए आतंकवादियों को ट्रेनिंग भी दी जा रही है। जम्मू कश्मीर में अभी तक कोरोना संक्रमण से 5 लोग जान गंवा चुके हैं। यहां संक्रमितों की संख्या 407 हो गई है।

खुफिया एजेंसी के मुताबिक, जम्मू कश्मीर से शाहिद नाम का युवक पीओके में आतंकी गतिविधियों की ट्रेनिंग के लिए गया है। उसने अपने पिता को फोन पर बताया है कि उसके यहां कैंप में कई लोग कोरोना संक्रमित हैं। उनका इलाज कराने की बजाय उन्हें जम्मू कश्मीर भेजने की तैयारी कर रहे है, जिससे जम्मू कश्मीर में ज्यादा से ज्यादा लोग संक्रमित हो सकें। दोनों के बीच हुई बातचीत की रिकॉर्डिंग भी खुफिया एजेंसी के हाथ लगी है। पाकिस्तान की इस साजिश का खुलासा होने के बाद जम्मू कश्मीर में एलओसी और अंतरराष्ट्रीय सीमा पर सुरक्षाबल सतर्क हो गए हैं। जम्मू कश्मीर के रिहायशी इलाकों में भी पुलिस ने अपनी खुफिया टीमें लगा दी हैं।

इसके साथं ही सुरक्षाबलों को यह भी निर्देश दिया गया है कि वह सीमा पर या रिहायशी इलाकों में भी अगर किसी को पकड़े तो पूरी सावधानी रखें। खुफिया एजेंसी के मुताबिक, पाकिस्तान सीमा पर लगातार आतंकी गतिविधियां बढ़ा रहा है। रिहायशी इलाकों में भी आतंकी गतिविधियों को बढ़ाकर वह कोरोना संक्रमितों को कश्मीर में घुसपैठ कराना चाहता है। सेना प्रमुख मनोज मुकुंद नरवणे दो दिन पहले जम्मू कश्मीर के दौरे पर थे। इस दौरान उन्होंने पाकिस्तान को आड़े हाथों लिया।

नरवणे ने कहा कि जिस वक्त हम न सिर्फ हमारे देश के लोगों बल्कि अन्य देशों के लोगों को भी मेडिकल टीम, दवाएं भेजकर मदद कर रहे हैं, उस वक्त पाकिस्तान आतंक को एक्सपोर्ट कर रहा है। यह अच्छी बात नहीं है। उन्होंने कहा कि यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है कि ऐसे समय में जब पूरी दुनिया और भारत इस कोविड-19 महामारी के खतरे से जूझ रहा है, हमारा पड़ोसी हमारे लिए मुसीबत बना हुआ है।

 

Sanjeeni Today

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।