भारत के इस दांव से डरा पाकिस्तान : कहा- अब PoK को बचाना मुश्किल #news4
April 1st, 2022 | Post by :- | 299 Views

नई दिल्ली। पाकिस्तान में सत्ता को लेकर इमरान खान सरकार औ विपक्ष के बीच सियासी घमासान जारी है। इसके बीच उनके ही मुल्क के कद्दावर नेता कहना है कि आज नहीं तो कल पीओके और मुजफ्फराबाद को बचा पाना बहुत मुश्किल होगा। पाक नेता का दावा है कि पीओके में भी पाकिस्तान से आजाद होने के आंदोलन लगातार बढ़ते जा रहे हैं। विशेषज्ञों का आंकलन है कि पाकिस्तान के अंदरूनी राजनीतिक हालात के बीच अवाम और उनके नेताओं की ओर से पीओके पर पकड़ कमज़ोर पड़ती जा रही है। इसकी स्वीकारोक्ति भारत की स्थिति को मजबूत कर रही है।

बिलावल भुट्टो ने कही ये बड़ी बात

पाकिस्तान इमरान खान की सरकार को अपना कार्यकाल पूरा करने के लाले पड़े हुए हैं। इसी बीच पाकिस्तान के ही कद्दावर नेता बिलावल भुट्टो जरदारी ने इस बात को खुलकर स्वीकार किया है कि पाकिस्तान की कमजोर नीतियों के चलते ही मुजफ्फराबाद और पीओके को बचा पाना उनके लिए बड़ा मुश्किल हो रहा है।

बता दें कि बिलावल भुट्टो ने इससे पहले भी पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर को लेकर ऐसी ही बयानबाजी की थी। पाकिस्तान में पीओके पर कमजोर पड़ती पकड़ पर रक्षा मामलों के विशेषज्ञ पूर्व लेफ्टिनेंट कर्नल एचएस रावत ने कहा कि बीते कुछ दिनों में ऐसे हालात बनने शुरू हुए हैं जिससे पूरे पाकिस्तान में इस बात की चर्चा खुलेआम होने लगी है।

वे कहते हैं कि भारत ने बीते कुछ समय में जिस तरीके से कश्मीर घाटी में लोगों की समृद्धि, जीवन शैली और उनकी जिंदगी में सुधार को लेकर जो कदम उठाए हैं। वह पूरी दुनिया में सराहे जा रहे हैं। रावत ने बताया कि जिस तरीके से 370 को खत्म किया है। उसके बाद से तो पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर से फैलाए जाने वाले आतंकवाद पर अंकुश लगा है। यही कुछ बड़ी वजह है जिससे पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर के लोगों को अहसास भी हो रहा है कि आने वाले वक्त में पूरे कश्मीर में और ज्यादा अमन कायम होगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।