पांवटा साहिब के पेट्रोल पंप मालिक को आबकारी विभाग ने वैट अधिनियम के अंतगर्त लगाया 4.71 करोड़ का जुर्माना #news4
August 11th, 2022 | Post by :- | 114 Views

नाहन : हिमाचल प्रदेश राज्य कर व आबकारी विभाग (दक्षिण प्रवर्तन क्षेत्र परमाणु) ने वैट अधिनियम के तहत एक मामले में सिरमौर जिला के पांवटा साहिब में पेट्रोल पंप मालिक को नियमित वैट जमा ना करने की एवज में पंप मालिक को प्रस्तावित डिमांड नोटिस 4.71 करोड कर, ब्याज व जुर्माने सहित जमा करवाने के लिए हाल ही में जारी किया गया था। जिस पर पंप मालिक ने सरकारी खजाने में 1.33 करोड़ रुपये की राशि जमा करवाई है। इसके अतिरिक्त विभाग ने अंतिम आदेश में 3.82 करोड़ की शेष राशि का टैक्स डिमांड आर्डर जारी किया है। जिसे 30 दिन के भीतर जमा करवाने के आदेश दिये गये है। जो कि जल्द ही शेष राशि भी सरकारी खजाने में जमा करवा ली जाएगी।

इसके अतिरिक्त हिमाचल राज्य कर व आबकारी (दक्षिण प्रवर्तन क्षेत्र) ने जीएसटी अधिनियम में भी इस माह जुलाई 2022 में 441 प्रतिशत अधिक आय अर्जित करके एक नया रिर्काड कायम किया है। विभाग के संयुक्त आयुक्त जीडी ठाकुर ने बताया कि जीएसटी में इंटेलीजेन्स टूल्स तकनीकी के माध्यम दक्षिण क्षेत्र के अन्तर्गत पडने वाले करदाताओं का रिकार्ड खंगालने पर गत वर्ष की अपेक्षा 441 प्रतिशत की वृद्धी दर्ज की गई। दक्षिण प्रवर्तन क्षेत्र द्वारा जीएसटी में दिए गये इन्टेलीजेन्स टूल्स को तकनीकी तौर पर उपयोग करते हुए राजस्व बढोतरी में बड़ा

योगदान रहा है। जीएसटी लगने के बाद पैट्रोलियम पदार्थ व शराब जैसी वस्तुएं वैट अधिनियम के दायरे में ही रखी गई है। जबकि सरकार का जीएसटी के बाद सबसे अधिक कर उगाही इन्ही पदार्थों की बिक्री पर लगने वाले वैट कर से ही आती है। चूंकि राज्य कर व आबकारी विभाग के अंतर्गत प्रवर्तन क्षेत्र की मुख्य भूमिका एक तीसरी

आंख की तरह कार्य करने की होती है। ताकि विभाग के अन्य जिलो व वृतों में तैनात अधिकारियों की नजरो बचने वाले कर चोरी के मामले विभाग के प्रवर्तन क्षेत्र द्वारा पकड़ने की अहम जिम्मेदारी दी होती है। जोकि अपनी विशेष कार्य कुशलता व आधुनिक बिजनेस इंटेलिजैन्स टूल्स के माध्यम से पकडने के कार्य करते है। जिसका मूल उदेशय विभाग के अन्य विगं द्वारा एकत्रित किए जा रहे कर को निरोधक प्रकरण से सुरक्षित रखना होता है।

संयुक्त आयुक्त जीडी ठाकुर ने अपनी टीम को श्रेय दिया उन्‍होंने बताया कि आगामी दिनों में ऐसे बड़े करदाताओं पर इसी तकनीकी के माध्यम से नजर रखते हुए सरकारी खजाने को और अधिक भरने के भरकस प्रयास किये जाते रहेंगे। संयुक्त आयुक्त जीडी ठाकुर ने जिला सिरमोर के पेट्रोल पंप मालिक को 4.71 करोड रुपये जुर्माना लगाए जाने की पुष्टि की है।

441 प्रतिशत जीएसटी एकत्र कर बनाया रिकार्ड

हिमाचल प्रदेश में जीएसटी अधिनियम के तहत प्रवर्तन क्षेत्र परमाणु की में पिछले वर्ष जुलाई माह की तुलना में जुलाई माह 2022 में 441 प्रतिशत अधिक आय अर्जित करके एक नया रिकार्ड कायम किया है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।