अनाधिकृत पास लेकर जसूर पहुंच गए पठानकोट के व्यापारी, FIR दर्ज; जिला में एंट्री पर लगाई रोक
April 27th, 2020 | Post by :- | 333 Views

पड़ोसी राज्य पंजाब के पठानकोट में रहने वाले व्यापारियों को प्रशासन द्वारा जसूर व नूरपुर में न आने की हिदायतों के बावजूद सोमवार को कई व्यापारी यहां पहुंच गए। आस पड़ोस के लोगों द्वारा इसकी भनक लगते ही स्थानीय प्रशासन तथा विधायक राकेश पठानिया को सूचित किया गया। सूचना मिलते ही एसडीएम डॉ. सुरेंद्र ठाकुर, डीएसपी डॉ. साहिल अरोड़ा जसूर कस्बा पहुंचे तथा उन्होंने व्यापारिक परिसरों का निरीक्षण किया।

एसडीएम ने बताया कुछ लोगों के पास अंतर्राज्यीयय कर्फ्यू पास थे, जो अनाधिकृत लग रहे थे, जिनको प्रशासन ने तत्काल प्रभाव से रद करवा दिया गया। एसडीएम ने बताया तीन व्यापारियों के पास रद्द करवा कर उनको पठानकोट वापस भेज दिया है जबकि एक व्यापारी पर एफआईआर दर्ज की गई है। उन्होंने कहा कि कुछ एक व्यापारी ऐसे भी पाए गए जिनका एक घर जसूर में और एक पठानकोट में है। उनको भी चेतावनी दी गई है।

एसडीएम ने कहा कल से पठानकोट के व्यापारी को हिमाचल में आगामी आदेश तक प्रवेश नहीं दिया जाएगा और यदि कोई व्यापारी चोरी छिपे पहुंचेगा तो उस पर एफआईआर दर्ज होगी। इस संदर्भ में जिलाधीश राकेश कुमार प्रजापति ने कहा इन व्यापारियों ने सेल्फ डिक्लेरेशन (सत्यापन) देकर पास हासिल किए हैं, जबकि यह पास सिर्फ जिला कांगड़ा के लोगों के लिए हैं। अतः इन लोगों के खिलाफ कार्रवाई अमल में लाई जा रही है।

वहीं विधायक राकेश पठानिया ने कहा कि इन व्यापरियों ने हिमाचल के आधार कार्ड देकर अनाधिकृत पास बनाए हैं। अतः स्थानीय पुलिस प्रशासन को निर्देश दिए गए हैं कि आगामी 14 दिन तक पठानकोट के व्यापारियों को हिमाचल में प्रवेश से रोका जाए।

आज कंडवाल बैरियर में सुबह से ही वाहनों की लंबी कतार लग गई। पुलिस ने सभी वाहनों के कर्फ्यू पास चेक करके ही आगे जाने दिया, इस दौरान हिमाचल प्रदेश की सीमा के भीतर आने वाले लोगों की स्क्रीनिंग की गई।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।