महामारी से बचने के लिए कर्फ्यू का ईमानदारी से पालन करें लोग : करनैल सिंह राणा कर्मचारी प्रकोष्ठ अध्यक्ष जसवां प्रागपुर
March 27th, 2020 | Post by :- | 159 Views
महामारी से बचने के लिए कर्फ्यू का ईमानदारी से पालन करें लोग : करनैल सिंह राणा कर्मचारी प्रकोष्ठ अध्यक्ष जसवां प्रागपुर
कोरोना वायरस नाम की वैश्विक बीमारी से बचने का एकमात्र उपचार है खुद को संक्रमण से बचाना और यह तभी संभव है जब हम भीड़भाड़ में जाने से बचें।  इसी भीड़भाड़ को रोकने के लिए सरकार ने कर्फ्यू लगाया है। अब लोगों का दायित्व है कि वह पूरी ईमानदारी से  कर्फ्यू का पालन करें। क्योंकि इस महामारी से बचने के लिए यह बेहद आवश्यक है। यह अपील करनैल सिंह राणा कर्मचारी प्रकोष्ठ अध्यक्ष जसवां प्रागपुर  ने लोगों से की है। अपने जारी प्रेस नोट में उन्होंने कहा यह समय पूरी सावधानी बरतने का है। इस महामारी को लोग गंभीरता से लें और कर्फ्यू का गंभीरता से पालन करें।
उन्होंने जसवां प्रागपुर के लोगों को सराहते  हुए कहा की, लोग समझदार हैँ उन्हें पता ही की देश ही नहीं पुरे विश्व में यह कोरोना वैश्विक महामारी का रूप ले चुकी है, लोग सरकार के दिशा निर्देशों का पालन कर रहे हैँ I
करनैल सिंह राणा ने कहा कि  जहाँ इटली, अमेरिका, फ्रांस जैसे विकसित देश इस बीमारी का सामना नहीं कर पा रहे वहीं हमारे देश के प्रधानमंत्री मोदी जी ने लॉकडाउन व कर्फ्यु जैसे  एहम फैसले लेकर  पुरे वर्ल्ड में समझदारी व सूझबूझ का परिचय दिया है I कल हुई G-20 देशो की वीडियो कॉन्फ्रेंस मीटिंग में सभी देशो ने भारत को इस सराहनीय कदम के लिए शाबाशी दी व प्रधानमंत्री से अपने अपने देशो में फैल रही इस महामारी के लिए सुझाव भी लिए I राणा ने कहा की हमारे डॉक्टर, सफाई कर्मी, मीडिया के लोग, हर वो शख्स जो इस बीमारी मैं कहीं ना कहीं अपनी सेवाएँ दे रहे हैँ,  हमें भी उनके साथ सहयोग करना होगा और वह घर में रहकर ही किया जा सकता है I
राणा  ने लोगों से कहा है कि सतर्कता में ही सुरक्षा है । यदि अति आवश्यक हो तभी लोग बाजार जाएं और प्रशासन के आदेशों का पूरी तरह से पालन करें। यदि किसी व्यक्ति को तेज बुखार, खासी, सांस लेने में समस्या हो तो इसकी तुरंत विभागीय डॉक्टरों को सूचना दें। एक व्यक्ति दूसरे व्यक्ति से कम से कम एक मीटर की दूरी पर रहे, लगातार सैनेटाइजर, मास्क का इस्तेमाल करें।  उन्होंने कहा कि लोगों को अपनी स्वच्छता पर विशेष ध्यान देना होगा।

उन्होंने कहा कि हमारे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व प्रदेश सरकार और प्रशासन इस महामारी से निपटने के लिए हरसंभव प्रयास कर रहे हैं और जनता को भी सरकार व प्रशासन को सहयोग देना होगा। यह किसी का निजी संघर्ष नहीं बल्कि मानव जाति को बचाने का संघर्ष है। यह ऐसा युद्ध है जो कि सिर्फ घर में रहकर ही जीता जा सकता है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।