हिमाचल विधानसभा में खालिस्‍तान के झंडे लगाने वालों तक पहुंची पुलिस, जानिए किस तरह आए पकड़ में #news4
May 11th, 2022 | Post by :- | 101 Views

धर्मशाला : हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला में तपोवन स्थित विधानसभा परिसर के गेट व दीवारों पर खालिस्तान के झंडे लगाने के मामले में हिमाचल पुलिस आरोपितों तक पहुंच गई है। हिमाचल पुलिस की एसआइटी ने पंजाब से एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है, जबकि इस मामले से जुड़े एक अन्य को अभी पंजाब में ही तलाश किया जा रहा है। जैसे ही उसे पता चला कि उसका एक साथी गिरफ्तार हो चुका है तो वह वहां से आगे पीछे चला गया है। जिसकी तलाश हिमाचल प्रदेश पुलिस की विशेष टीम कर रही है। पंजाब में गिरफ्तार आरोपित व्यक्ति को पंजाब से हिमाचल लाया जा रहा है और आरोपित को लेकर शाम तक धर्मशाला पुलिस पहुंचेगी। यहां पर पुलिस आरोपित से पूछताछ करेगी।

पुलिस ने खंगाली है आस पास की सीसीटीवी फुटेज

पुलिस ने दो दिन की सिद्धबाड़ी व आस पास की क्षेत्रों व मुख्य चौराहों में भी स्थापित सीसीटीवी कैमरों की फुटेज को चेक किया है। सीसीटीवी फुटेज सहित अन्य इनपुट जुटाने में पुलिस जुटी हुई है। पुलिस को सफलता मिली है। एक आरोपित गिरफ्त में आया है जबकि दूसरे की धरपकड़ जारी है। आरोपित से पुलिस धर्मशाला में पूछताछ करेगी। बताया जा रहा है सीसीटीवी फुटेज ने भी इस मामले में सफलता दी है।

एसआइटी की पड़ताल जारी

सरकार ने खालिस्तान के झंडे लगने के बाद हिमाचल को अलर्ट कर सीमाएं सील कर दी थी और इस मामले में एसआइटी (विशेष जांच दल) गठित की, जिसमें डीआइजी इंटेलिजेंस, सिक्योरिटी संतोष पटियाल को अध्यक्ष बनाया गया है। कांगड़ा के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सिटी पुनीत रघु, ज्वालामुखी के एसडीपीओ चंद्र पाल, मंडी सीआइडी के डीएसपी सुशांत शर्मा, एसडीपीओ जवाली सिद्धार्थ शर्मा, धर्मशाला थाने के एसएचओ राजेश कुमार, योल पुलिस चौकी के प्रभारी सब इंस्पेक्टर नारायण सिंह इस टीम में शामिल हैं। यह टीम मामले की पड़ताल कर रही है और एक आरोपित को पकड़ने में सफलता हासिल की है।

यह बोले पुलिस अधीक्षक डा. खुशहाल शर्मा

पुलिस अधीक्षक डाक्‍टर खुशहाल शर्मा ने बताया पंजाब में एक गिरफ्तारी होने की सूचना है, जबकि एक अन्य युवक वहां से आगे पीछे हो गया है, जिसकी तलाश की जा रही है। गिरफ्तार आरोपित को पुलिस अपने साथ धर्मशाला ला रही है। इस बारे में अधिकारिक जानकारी वरिष्ठ अधिकारी ही देंगे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।