तपोवन में पौंग बांध विस्थापितों ने किया प्रदर्शन, मामले पर सीएम जयराम ने विधानसभा में ये कहा
December 10th, 2019 | Post by :- | 168 Views
मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि पौंग विस्थापितों को राजस्थान में भूमि आवंटित करने और विस्थापितों को बसाने के लिए प्रदेश सरकार की ओर से राजस्थान सरकार के साथ भरसक प्रयास किए जा रहे हैं। अभी तक 12,198 विस्थापितों को राजस्थान में भूमि आवंटित कर बसाया जा चुका है। पौंग बांध के निर्माण के लिए 20,722 परिवार विस्थापित हुए थे। इनमें से 16,352 परिवारों को 30 प्रतिशत से अधिक भूमि का अधिग्रहण किया गया था।
इन पात्र परिवारों को राजस्थान में भूमि आवंटन कर बैठाया जा रहा है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने प्रश्नकाल के दौरान ज्वाली के विधायक अर्जुन सिंह के सवाल के जवाब में मंगलवार को यह जानकारी सदन में दी। उन्होंने कहा कि वर्ष 1966 से अभी तक कुल 12,198 परिवारों को राजस्थान में भूमि प्रदान की गई है। शेष बचे 4154 परिवारों को भी चरणबद्ध तरीके से भूमि आवंटन किया जा रहा है। अभी तक 8,180 पौंग बांध विस्थापित परिवार बस चुके हैं।
4,018 विस्थापितों के मामले राजस्थान सरकार की ओर से रद्द किए गए हैं। 35 हजार रुपये से कम आमदनी वाले पौंग बांध विस्थापितों को नियमानुसार वित्तीय सहायता दी जा रही है। लड़की की शादी पर 30 हजार रुपये, लड़के की शादी पर 25 हजार रुपये, मकान की मरम्मत पर 25 हजार रुपये, बीमारी के इलाज पर 10 हजार रुपये और उच्च शिक्षा के लिए 15 हजार रुपये दिए जा रहे हैं। वहीं, पौंग बांध विस्थापितों ने मांगों को लेकर तपोवन में प्रदर्शन किया। अगुवाई कर रहे पूर्व सांसद डॉ. राजन सुंशात ने कहा कि पिछले 50 साल से चार विधानसभा क्षेत्रों के लोग विस्थापन का दर्द झेल रहे हैं। उन्होंने कहा कि एक ओर राजस्थान में विस्थापितों को उनका हक नहीं मिल रहा है, दूसरी ओर हिमाचल में विस्थापितों के साथ कोई संवेदना सरकार नहीं दिखा रही है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।