पूजा / दीपावली की रात सुख-समृद्धि की कामना से किन जगहों पर दीपक जलाना चाहिए
October 26th, 2019 | Post by :- | 185 Views

रविवार, 27 अक्टूबर को दीपावली की रात घर के आसपास लक्ष्मीजी के स्वागत के लिए दीपक जलाने की परंपरा है। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार दीपावली की रात कुछ खास जगहों पर दीपक जरूर जलाना चाहिए। जानिए ये जगहें कौन-कौन सी हैं…

  • लक्ष्मी पूजन से पहले मुख्य द्वार पर दोनों ओर सरसों के तेल के दीपक जलाएं। अगर घर में आंगन है तो घी का एक दीपक आंगन में जलाएं। आंगन नहीं तो है घर के मुख्य कमरे में घी का दीपक जलाएं।
  • लक्ष्मी पूजन के बाद तुलसी के पौधे के नीचे भी एक दीपक जलाएं।
  • घर के आसपास स्थित मंदिर में दीप जलाएं। पांच घी के दीपक ले जाएं और अपने इष्टदेव के अलावा शिव मंदिर और अन्य देवी-देवताओं के सामने भी दीपक जलाएं। समृद्धि की कामना करें।
  • घर के पास मुख्य चौराहे पर दीपक जलाकर घर लौट आएं। लक्ष्मी पूजन के बाद किसी पीपल के नीचे भी दीपक जलाएं। घर के आसपास कहीं भी अंधेरा दिखे तो वहां दीपक जलाकर रोशनी करें।
  • दो दीपक किचन में भी जरूर जलाएं. इससे मां अन्मपूर्णा प्रसन्न होती हैं और अन्न भंडार में वृद्धि होती है।
  • भगवान कुबेर की प्रार्थना करते हुए तिल के तेल का दीपक तिजोरी के पास जलाएं।
  • घर के पास नदी या नहर बहती हो तो किनारे पर दीपक जलाएं। अगर ऐसा संभव न हो तो घर में नल जल के किसी भी स्त्रोत के नजदीक एक दीपक जरूर जलाएं। कहा जाता है कि मां लक्ष्मी जल के रूप में भी घर घर में मौजूद रहती हैं।
  • घर के चारों कौनों में चार मुखी दीपक जलाएं और भगवान गणेश से सुख समृद्धि की कामना जरूर करें।
  • ध्यान रखें घर में दीपक जलाते समय सावधानी रखें। दीपक के आसपास कपड़े या अन्य कोई ज्वलनशील वस्तु न रखें।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।