लॉकडाउन का सकारात्मक प्रभाव, NASA ने कहा- भारत में 20 साल के निचले स्तर पर पहुंचा प्रदूषण
April 24th, 2020 | Post by :- | 131 Views

कोरोना संक्रमण की कड़ी तोड़ने के लिए लागू किए गए लॉकडाउन से पर्यावरण में अच्छा सुधार देखने को मिल रहा है। अमेरिका स्पेस एजेंसी नासा के लेटेस्ट सेटेलाइट डाटा से पता चला है कि इन दिनों उत्तर भारत में वायु प्रदूषण 20 वर्ष के सबसे निचले स्तर पर पहुँच गया है। नासा ने इसके लिए वायुमंडल में मौजूद एयरोसॉल की जानकारी प्राप्त की। फिर ताजा आंकड़े की तुलना 2016 से 2019 के बीच ली  गई तस्वीरों के साथ की।

बता दें कि कोरोना महामारी से निपटने के लिए देश में 25 मार्च से लॉकडाउन लागू है, इसका दूसरा चरण 3 मई तक है। नासा में यूनिवर्सिटीज स्पेस रिसर्च एसोसिएशन (USRA) के साइंटिस्ट पवन गुप्ता के अनुसार, लॉकडाउन की वजह से वायुमंडल में बड़े पैमाने पर परिवर्तन देखने को मिला है। इससे पहले कभी उत्तर भारत के ऊपरी क्षेत्र में वायु प्रदूषण का स्तर इतना कम नहीं देखा गया।

लॉकडाउन के बाद 27 मार्च से कुछ इलाकों में बरसात भी हुई। इससे वायु में मौजूद एयरोसॉल नीचे आ गए। यह लिक्विड और सॉलिड से बने ऐसे सूक्ष्म कण हैं, जिनकी वजह से फेफड़ों और दिल को नुकसान होता है। हवा में मौजूद एयरोसॉल के कारण ही विजिबिलिटी भी घटती है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।