नाहन में लैब को मेक शिफ्ट अस्पताल में चलाने की तैयारी #news4
June 1st, 2022 | Post by :- | 133 Views

नाहन : सिरमौर जिला मुख्यालय नाहन स्थित डा यशवंत सिंह परमार मेडिकल कालेज एवं अस्पताल में नई खुली क्रस्ना डायग्नोस्टिक लैब को मेकशिफ्ट अस्पताल में चलाने की तैयारी चल रही है। मेडिकल कालेज प्रबंधन की ओर से कंपनी के पदाधिकारियों को मेकशिफ्ट अस्पताल में जगह दिखाई गई है। कंपनी की दिल्ली से निरीक्षण टीम आकर इसका जायजा लेगी। यदि सब कुछ ठीक ठाक रहा, तो जल्द ही वहां पर मरीजों के टेस्ट होंगे। मेडिकल कालेज नाहन में गत 21 मई शाम पांच बजे से एसआर लैब की सेवाएं बंद हो गई। इसके बाद क्रस्ना डायग्नोस्टिक ने यहां कार्य संभाला, लेकिन पुरानी लैब वाली जगह नई कंपनी को कम लगी। ऐसे में कंपनी ने मेडिकल कालेज प्रबंधन से जगह की मांग की। जितनी जगह कंपनी चाह रही थी, वह मेडिकल कालेज नाहन में उपलब्ध नहीं हो पाई। क्योंकि नाहन मेडिकल कालेज के भवनों का निर्माण कार्य चल रहा है।

अब मेडिकल कालेज प्रबंधन ने नाहन से करीब पांच किलोमीटर दूर जुड्डा का जोहड़ में बने मेकशिफ्ट अस्पताल भवन में इस लैब को चलाने के लिए कंपनी को जगह दिखाई है। मेडिकल कालेज प्रबंधन का कहना है कि रुटीन के टेस्ट अस्पताल में ही होंगे। वहीं स्पेशल टेस्ट के लिए मरीजों को वहां भेजा जाएगा। हालांकि मरीजों के लिए यह काफी चुनौतीपूर्ण होगा। क्योंकि पहले उन्हें अस्पताल में अपना चैकअप करवाना होगा, उसके बाद पांच किलोमीटर दूर जाकर टेस्ट करवाने होंगे। वर्तमान में क्रस्ना डायग्नोस्टिक का कार्य कोविड अस्पताल के एक कमरे में चल रहा है। यहां पर टेस्ट करवाने के लिए मरीजों को परेशानी उठानी पड़ी रही है। जगह न होने से लैब कर्मचारियों को भी खासी दिक्कत हो रही है। लैब के भीतर-बाहर लंबी-लंबी कतारें लग रही है।

गौरतलब है कि मेडिकल कालेज में रोजाना 1200 से 1300 तक की ओपीडी होती है। ऐसे में लैब में टेस्ट करवाने वालों की संख्या काफी रहती है। उधर मेडिकल कालेज के चिकित्सा अधीक्षक डा बलराम धीमान ने बताया कि क्रस्ना डायग्नोस्टिक कंपनी के लैब के लिए जुड्डा का जोहड़ में मेकशिफ्ट अस्पताल में जगह दिखाई गई है। कंपनी की दिल्ली से निरीक्षण टीम आकर इसका जायजा लेगी। फिलहाल कोविड अस्पताल में लैब ने अपना कार्य शुरू कर दिया है। उन्होंने कहा कि लोगों को सुचारू स्वास्थ्य सुविधा देने के लिए मेडिकल कालेज प्रबंधन प्रयासरत है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।