प्रोजेक्ट मंजूर, किन्नू में बनेगा माता का बाग #news4
March 22nd, 2022 | Post by :- | 234 Views

चिंतपूर्णी  : माता चिंतपूर्णी मंदिर में आने वाले श्रद्धालुओं के लिए मंदिर न्यास सुविधाओं में बढ़ोतरी करने जा रहा है। श्रद्धालुओं को बेहतर सुविधा और चितपूर्णी क्षेत्र को पर्यटन हब बनाने के लिए जिला प्रशासन द्वारा कई बेहतर कार्य किए गए है और कई नए प्रोजेक्ट पर कार्य शुरू किया जा रहा है। मंदिर न्यास अब किन्नू पेट्रोल पंप के पास खाली जगह पर माता का बाग बनाने जा रहा है। इस स्थान पर माता के चरण रखे जाएंगे। मंदिर न्यास इस प्रोजेक्ट पर 1.38 करोड़ रुपये खर्च करेगा। इस प्रोजेक्ट के लिए जिला प्रशासन को सरकार की तरफ से स्वीकृति मिल गई है।

किन्नू में बनने जा रहे माता का बाग प्रोजेक्ट में एक कैफे, कुछ दुकानें, पार्किंग व्यवस्था, शौचालय सुविधा व बच्चों के लिए एक बाग बनाया जायेगा। इस स्थान पर माता के चरण रखने के लिए अलग से एक कमरे की व्यवस्था होगी। माता चितपूर्णी मंदिर में जाने वाले श्रद्धालु यहां माता के चरणों का अभिवादन कर पाएंगे। चितपूर्णी शक्तिपीठ में माता सती के चरण गिरे थे। इसलिए माता के बाग में माता के चरणों के लिए विशेष स्थान बनाया जाएगा। यह स्थान राहगीरों और श्रद्धालुओं के लिए आकर्षण का केंद्र बनेगा जहां उन्हें चायपान, खाने के साथ पार्किंग स्थल और सुंदर बाग में घूमने की सुविधा मिलेगी। चितपूर्णी पुराने बस अड्डे का कायाकल्प होगा

चितपूर्णी में पुराने बस अड्डे का भी कायाकल्प होगा। पुराने बस अड्डे पर अब मंदिर न्यास एक करोड़ 38 लाख 38 हजार रुपये खर्च करेगा। इस राशि से यहां दोमंजिला भवन का निर्माण होगा जिसमें बिजली व पानी की व्यवस्था होगी। श्रद्धालुओं को ठहरने और जूते रखने के लिए भी उचित व्यवस्था होगी। यह भवन सुविधा केंद्र की तरह होगा। मंदिर प्रशासन द्वारा मंदिर चितपूर्णी में प्रसाद योजना, पानी की स्कीम, सीवरेज सिस्टम, अंडरग्राउंड बिजली केबल व्यवस्था के लिए युद्धस्तर का कार्य हो रहा है। मुबारिकपुर में सुविधा केंद्र, घेबट बेहड में महिलाओं के लिए वाओ मार्ट आदि मंदिर न्यास की ही योजनाएं थीं जो अब जमीन पर उतरी हैं।

मंदिर न्यास श्रद्धालुओं को हर सुविधा देने के लिए वचनबद्ध है। इसके लिए कई प्रोजेक्ट पर कार्य हो रहा है। अब किन्नू में माता का बाग बनाया जा रहा है जिसके लिए सरकार से स्वीकृति मिल गई है। टेंडर प्रक्रिया जल्द शुरू की जाएगी। वहीं, पुराने बस अड्डे में भी सुविधाओं में बढ़ोतरी की जाएगी। इसके लिए भी टेंडर प्रक्रिया जल्द शुरू की जाएगी। दोनों प्रोजेक्ट पर दो करोड़ 76 लाख रुपये खर्च किए जाएंगे।

-राघव शर्मा, उपायुक्त एवं मंदिर आयुक्त

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।