लोक लेखा समिति की बैठक में विभागों में पारदर्शिता व जवाबदेही पर जोर
August 7th, 2019 | Post by :- | 147 Views

ऊना (07 अगस्त)- हिमाचल प्रदेश विधानसभा की लोक लेखा समिति की सभापति आशा कुमारी ने आज बचत भवन में हुई बैठक के दौरान सरकारी विभागों में वित्तीय पारदर्शिता और जवाबदेही पर जोर दिया। समिति के सदस्य और विधायक बलबीर सिंह, अर्जुन सिंह, राकेश जम्वाल, सुभाष ठाकुर व होशियार सिंह भी उपस्थित रहे।
बैठक में आशा कुमारी ने कहा कि सभी विभाग सरकारी धन को नियमों के दायरे में रहकर खर्च करें। सरकार के पैसे का उपयोग लोक हित में होना चाहिए जिससे कि हिमाचल प्रदेश विकास के पथ पर आगे बढ़े। उन्होंने कहा कि सभी विभाग सरकार के पैसे को अपने पैसे की तरह खर्च करें, साथ ही काम में गुणवत्ता हो और जवाबदेही व पारदर्शिता सुनिश्चत हो।
बैठक में समिति ने स्वास्थ्य, लोक निर्माण, सामाजिक कल्याण, कृषि, वन, परिवहन और आबकारी एवं कराधान विभाग सहित अन्य विभागों के कैग रिपोर्ट के मुताबिक बने ऑडिट पैरा पर चर्चा की, जिस पर संबंधित अधिकारियों से मौखिक उत्तर दिए।
अवैध खनन-ड्रग्स पर भी हुई चर्चा
बैठक के दौरान समिति ने जिला ऊना में अवैध खनन के मामले पर भी कड़ा संज्ञान लिया। समिति की सभापति आशा कुमारी ने कहा कि अवैध खनन व ड्रग्स के चलते जिला ऊना का नाम बदनाम हो रहा है। उन्होंने कहा कि खनन माफिया मशीनों का इस्तेमाल कर रहा है तथा स्वां की चैनलाइजेशन को भी नुकसान पहुंचाया जा रहा है। अधिकारियों को इस पर कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए। आशा कुमारी ने कहा कि सरकार खनन की लीज़ प्रदान करती है और यह काम नियमों के दायरे में रहकर किया जाना चाहिए। पर्यावरण को नुकसान किसी भी कीमत पर सहन नहीं किया जाएगा।
आशा कुमारी ने ड्रग्स माफिया के खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए। उन्होंने नशे के प्रति जन जागरूकता लाने की आवश्यकता पर भी बल दिया। उन्होंने कहा कि स्कूलों में जाकर विद्यार्थियों तथा उनके अभिभावकों को भी नशे के दुष्परिणामों के बारे में अवगत करवाना चाहिए।
ट्रक यूनियन की गुंडागर्दी पर कड़ी कार्रवाई हो
बैठक में समिति ने ट्रक यूनियनों की गुंडागर्दी का मामला भी उठाया। समिति के सदस्यों ने कहा कि प्रदेश सरकार निवेश को आकर्षित करने के लिए प्रयास कर रही है लेकिन ट्रक यूनियनों की कार्यप्रणाली की वजह से निवेशक पलायन करते हैं। ऐसे में प्रशासन को बिना किसी दबाव में आए नियमों की अवहेलना करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए। सदस्यों ने कहा कि निवेश आने से हिमाचल प्रदेश तरक्की के रास्ते पर चलेगा और रोजगार के अवसर भी पैदा होंगे।
इससे पहले उपायुक्त ऊना संदीप कुमार ने समिति का स्वागत करते हुए उनके निर्देशों की समयबद्ध अनुपालना तय बनाने का भरोसा दिलाया।
इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक दिवाकर शर्मा, एसडीएम ऊना डॉ सुरेश जसवाल, सहायक आयुक्त रेखा कुमारी, समिति अधिकारी नीलम लोहिया, वरिष्ठ लेखा अधिकारी रमेश चौहान, वरिष्ठ लेखाकार नागेंद्र कुमार, अधीक्षक प्रदीप भंडारी, प्रतिवेदक मंजू शर्मा व रीता शर्मा सहित सभी विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।