राम बाजार की दुकानें बनेंगी स्मार्ट, काम शुरू #news4
February 23rd, 2022 | Post by :- | 112 Views

शिमला : राजधानी शिमला को स्मार्ट बनाने के लिए स्मार्ट सिटी के काम अब जमीन पर दिखने लगे हैं। राजधानी में नगर निगम की पुरानी व जर्जर हो चुकी दुकानों को बेहतर बनाने के लिए प्रोजेक्ट बनाया है। इसके तहत शहर की 476 दुकानों को एक ही प्रारूप में तैयार किया जाना है। इसमें पहले चरण में 35 दुकानों को तैयार कर दिया है, जबकि दूसरे चरण में 50 से ज्यादा दुकानों को बनाया जाना है। इसलिए पुरानी दुकानों को तोड़ने का काम चल रहा है।

स्मार्ट सिटी के तहत ये काम हिमुडा को दे रखा है। हिमुडा ने सब्जी मंडी मैदान से लेकर सब्जी मंडी में दुकानें तैयार कर दी हैं। अब राम बाजार में इसका काम शुरू कर दिया है। आने वाले दिनों में शहर के अन्य स्थानों पर भी ये काम किया जाना प्रस्तावित है। इन दुकानों को प्री-फेब्रिकेटिड स्ट्रक्चर में बनाया जा रहा है। बुधवार को राम बाजार में करीब 10 से अधिक दुकानों को तोड़ने का कार्य शुरू कर दिया गया। राम बाजार और लोअर बाजार के कारोबारियों के लिए लिफ्ट कार पार्किग और सब्जी मंडी में अस्थायी दुकानें बनाकर दी गई हैं, ताकि यहां पर कारोबारियों को चरणबद्ध तरीके से शिफ्ट किया जा सके। लोअर बाजार में स्मार्ट सिटी की योजना के तहत 35 से अधिक दुकानें प्री-फेब्रिकेटिड स्ट्रचर में बनकर तैयार हो चुकी हैं। इसे दुकानदारों को सौंपा जा चुका है। राजधानी में निगम की 50 फीसद दुकानों की बदलेगी सूरत

शहर में निगम की 950 के लगभग दुकानें हैं। इनमें से 467 दुकानों को स्मार्ट सिटी के तहत नए सिरे से बनाया जाना प्रस्तावित है। प्रत्येक दुकान पर तीन लाख रुपये का खर्च किया जाना प्रस्तावित है। कारोबारियों का व्यापार भी प्रभावित न हो, इसलिए क्रमबद्ध तरीके से इसे बनाया जा रहा है। लोअर बाजार, गंज बाजार, सब्जी मंडी और राम बाजार में दुकानें बन रही हैं। स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत इसके लिए चार करोड़ नौ लाख रुपये का बजट रखा है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।