टिकट कटने से सदमे में शांता, खीज मिटाने को दे रहे बयान: राठौर
April 1st, 2019 | Post by :- | 147 Views

कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप राठौर ने कहा है कि पूर्व सांसद शांता कुमार टिकट कटने से सदमे में हैं। अपनी खीज मिटाने को वीरभद्र और सुखराम की मुलाकात को नाटक बता रहे हैं। सोमवार को पार्टी मुख्यालय में पत्रकारों से बातचीत में राठौर ने शांता कुमार के बयान पर पलटवार किया।

कहा कि वह उन्हें याद दिलाना चाहते हैं कि साल 2017 में जब पंडित सुखराम अपने परिवार सहित भाजपा में शामिल हुए थे, तब क्या वे आरोपमुक्त थे। कांग्रेस में कोई आए तो वह दोषी हो जाता है और भाजपा में जाएं तो निर्दोष बन जाता है।

राठौर ने तंज कसते हुए कहा शायद शांता कुमार अपना टिकट कटने से सदमे में हैं। अपनी खीज मिटाने के लिए दोषारोपण कर रहे हैं। भाजपा नेताओं को कांग्रेस की नहीं अपनी पार्टी की चिंता करनी चाहिए।

प्रदेश में कांग्रेस मजबूती के साथ एकजुट होकर चुनाव मैदान में उतर रही है। भाजपा तो चुनाव से पूर्व अपने वर्तमान सांसदों को चुनाव मैदान में उतारने की बात करती थी। अब इसने कांगड़ा और शिमला में अपने प्रत्याशी बदल दिए हैं।

कहा कि राहुल गांधी के दो संसदीय क्षेत्रों से चुनाव लड़ने पर सवाल उठाने वाले भाजपा नेताओं को अपने नेताओं के इतिहास पर भी नजर दौड़ानी चाहिए। राहुल गांधी का दो जगहों से चुनाव लड़ना उन लोगों की भावनाओं का आदर और सम्मान करना है, जो चाहते थे कि राहुल दक्षिण भारत से भी चुनाव लड़ें।

राठौर ने भाजपा नेताओं को याद दिलाते हुए पूछा है कि साल 2014 में उनकी पार्टी के पीएम नरेंद्र मोदी दो जगहों से क्यों चुनाव लड़े थे। क्या उन्हें अपनी जीत पर कोई संदेह था। पूर्व पीएम स्व. अटल बिहारी वाजपेयी व लाल कृष्ण आडवाणी क्यों दो-दो जगहों से चुनाव लड़े थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।