हिमकेयर योजना में पंजीकरण एक बार फिर शुरू
January 1st, 2020 | Post by :- | 185 Views

ऊना (1 जनवरी)- स्वास्थ्य बीमा का कवर प्रदान करने वाली हिमाचल प्रदेश सरकार की हिमकेयर योजना में एक बार फिर पंजीकरण शुरू हो गया है। इस बारे में जानकारी देते हुए मुख्य चिकित्सा अधिकारी ऊना डॉ. रमण कुमार शर्मा ने कहा कि इस योजना के तहत पंजीकरण 1 जनवरी 2020 से दोबारा आरंभ हो चुका है जो 31 मार्च 2020 तक चलेगा। उन्होंने कहा कि हिमकेयर के अंतर्गत अस्पताल में भर्ती होने पर पांच लाख रूपए के निःशुल्क इलाज की सुविधा का प्रावधान है। वर्तमान में इसके अंतर्गत जिला में 26,492 परिवार शामिल हैं और 18 अस्पताल योजना के अंतर्गत पंजीकृत हैं जिनमें सात निजी अस्पताल भी शामिल हैं। इस योजना के तहत पिछले एक वर्ष में 2136 लाभार्थियों ने फ्री इलाज की सुविधा का लाभ प्राप्त कर लिया है।
सीएमओ ने कहा कि जिन परिवारों के पास हिमाचल प्रदेश यूनिवर्सल हैल्थ प्रोटेक्शन स्कीम के कार्ड थे और इन कार्ड का हिमकेयर योजना के अंतर्गत नवीनीकरण नहीं करवाया है, वह भी इस अवधि में नवीनीकरण करवा सकेंगे। इसके अतिरिक्त जिन परिवारों ने हिमकेयर योजना में 1 जनवरी, 2019 के बाद पंजीकरण करवाया है, वह पॉलिसी अवधि पूरी होने अर्थात 365 दिन के बाद नवीनीकरण करवा सकते हैं।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि लाभार्थी विभाग की वेबसाइट पर जाकर स्वयं पंजीकरण कर सकते हैं या नजदीकी लोक मित्र केंद्र के माध्यम से भी आवेदन किया जा सकता है। जिसके लिए उन्हें निर्धारित प्रीमियम के अतिरिक्त 50 रूपए का शुल्क लोक मित्र केंद्र में जमा करवाना होगा। योजना के अंतर्गत पंजीकरण करवाने के लिए और नवीनीकरण करवाने के लिए सरकार द्वारा निर्धारित दस्तावेज अपलोड करवाना अनिवार्य है। श्रेणियों के आधार पर निर्धारित दस्तावेजों की सूची विभाग की वेबसाइट पर दी गई है और योजना के अन्तर्गत निर्धारित प्रीमियम शून्य रूपए के लेकर 1000 रूपए तक है।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने लोगों से आग्रह किया है कि सभी योजना के तहत पंजीकरण करवा लें ताकि बीमारी के समय उन्हें किसी प्रकार की असुविधा का सामना ना करना पड़े और फ्री इलाज की सुविधा मिल सके। इस योजना की अधिक जानकारी के लिए जिला समन्वयक दीपक चब्बा से क्षेत्रीय अस्पताल ऊना के कमरा नं. 100 में या मोबाइल नं. 9882487364 पर संपर्क किया जा सकता है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।