राज्य सहकारी बैंक में करोड़ों रुपये के लोन का गड़बड़झाला, रिपोर्ट तलब
November 6th, 2019 | Post by :- | 152 Views

हिमाचल प्रदेश राज्य सहकारी बैंक में कुल्लू के दो हाइड्रो प्रोजेक्टों को नियमों को ताक पर रखकर करोड़ों रुपये का लोन देने का गड़बड़झाला सामने आया है। बैंक के ऑडिट में इसका खुलासा हुआ है। बैंक प्रबंधन ने जांच बैठाकर प्रबंध निदेशक से रिपोर्ट तलब कर ली है। इस रिपोर्ट के आधार पर अधिकारियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाने की तैयारी है।  सूत्रों के अनुसार वर्ष 2009 में कुल्लू के दो प्रोजेक्टों हिमांद्री हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट और ग्रावल एनर्जी कंपनी को करोड़ों रुपये का लोन दिया गया। आरोप है कि अधिकारियों ने मिलीभगत से नियमों को ताक पर रखकर लोन दिया है। हिमांद्री प्रोजेक्ट को 40 करोड़ लोन दिया जा सकता था लेकिन 57 करोड़ दे दिया गया। ग्रावल कंपनी को 40 के बजाय 67.25 करोड़ लोन दिया गया।

करीब 44.25 करोड़ का अधिक लोन दिया गया है जिसे अभी तक नहीं चुकाया गया है। इसके अलावा कंपनी शेयर में भी गड़बड़ी हुई है। इसका खुलासा 2018-19 के ऑडिट में हुआ है। प्रदेश राज्य सहकारी बैंक के निदेशक राकेश गौतम ने कहा है कि गत सरकारों के समय में गलत ढंग से लोनिंग की है। दो मामले सामने आए हैं, जिन पर जांच बैठाई गई है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।