मंडी जिला में 3 मई तक यथावत जारी रहेगा कर्फ्यू : ऋग्वेद ठाकुर …..
April 18th, 2020 | Post by :- | 272 Views

मंडी, 18 अप्रैल : अगर आप कयास लगा रहे हैं कि 20 अप्रैल के बाद मंडी जिला में कर्फ्यू में बड़ी ढील मिलने वाली है तो यह खबर आपकी जानकारी दुरूस्त करने के लिए बेहद जरूरी है। उपायुक्त ऋग्वेद ठाकुर ने ऐसे सभी कयासों को सिरे से खारिज करते हुए स्पष्ट किया है कि मंडी जिला में 3 मई तक कर्फ्यू यथावत जारी रहेगा ।

ऋग्वेद ठाकुर ने कहा कि कोरोना को लेकर हर दिन परिस्थितियां बदल रही हैं। इसलिए लोगों की सुरक्षा के लिए वर्तमान व्यवस्था ही आगे भी जारी रखी जाएगी । प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने पूरे देश में 3 मई तक लॉक डाउन की घोषणा की है। इस अवधि में मंडी में जारी कर्फ्यू भी यथावत लागू रहेगा । इसमें अभी कोई ढील नहीं दी जा रही है।

उन्होंने कहा कि 20 अ्रपैल के बाद भी अभी की तरह ही कर्फ्यू जारी रहेगा। किसी स्थान पर भीड़ न करने, सभी प्रकार की सभाओं पर रोक, पब्लिक यातायात, प्राइवेट गाडियों, टैक्सियों, सिनेमा हॉल, धार्मिक स्थल को बंद रखने को लेकर जो व्यवस्था अभी है वही 3 मई तक जारी रहेगी।

उपायुक्त ने कहा कि जिला में आने वाले समय में कर्फ्यू में कितनी और किस प्रकार की छूट देनी है इसका निर्णय कारोना जांच को लेकर जिले से रोजाना टांडा अस्पताल भेजे जा रहे रैंडम सैंपल की रिपोर्ट पर निर्भर करेगा।
उपायुक्त ने कहा कि जिला में कारोना को लेकर हर दिन 25 से 30 सैंपल लिए जा रहे हैं। एक्टिव केस फाइंडिंग अभियान के डैटा के मुताबिक जिन लोगों में सर्दी खांसी के लक्षण हैं या जिनकी कोई ट्रैवल हिस्ट्री है, उनके रैंडम सैंपल लिए जा रहे हैं। इन सैंपल को जांच के लिए टांडा भेजा जा रहा हैं । इनके पणिाम पर ही निर्भर करेगा कि जिला में आगे में कर्फ्यू में कितनी और किस प्रकार की छूट देनी है।

उन्होंने कहा कि शुक्रवार को हमीरपुर जिला में आए दो कोराना पॉजिटिव केस हमारे लिए भी चिंता की बात है। इसलिए यहां से जांच के लिए भेजे जा रहे सैंपल की रिपोर्ट पर बहुत कुछ निर्भर करेगा। कर्फ्यू में किसी प्रकार की छूट देने को लेकर सरकार से बातचीत व विचार विमर्श कर ही निर्णय लिया जाएगा।

उन्होंने लोगों से अपील की कि कर्फ्यू में छूट को लेकर अपनी तरफ से किसी प्रकार के कयास न लगाएं। इस बारे में जो भी निर्णय लिया जाएगा सभी को उसकी जानकारी दी जाएगी

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।