प्रदेश में जल संग्रहण को 4751 करोड़ की योजना : महेंद्र सिंह ठाकुर
July 5th, 2019 | Post by :- | 123 Views

मंडी, 05 जुलाई : सिंचाई एवं जनस्वास्थ्य, बागवानी व सैनिक कल्याण मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने कहा मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के प्रयासों से भारत सरकार ने प्रदेश में जल संग्रहण के लिए 4751 करोड़ रुपए की परियोजना स्वीकृत की है। एशियन विकास बैंक के सहयोग से लागू की जा रही इस योजना के तहत छोटी नदियों, खड्डों और नालों पर चेक डैम बनाने का काम किया जाएगा।

महेंद्र सिंह ठाकुर शुक्रवार को मंडी के विपाशा सदन में जिला शिकायत निवारण समिति की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।

उन्होंने कहा प्रधानमंत्री ने जल संग्रहण पर जोर देते हुए आसमान से गिरने वाली जल की हर एक बूंद का संचयन करने का आह्वान किया है। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के नेतृत्व में प्रदेश सरकार उनके इस अभियान को जनांदोलन बनाने के लिए प्रतिबद्ध है ।
लोगों से अपील की परम्परागत जल स्त्रोतों की सफाई पर विशेष ध्यान दें और इनका संरक्षण भी सुनिश्चित करें।

अधिकारी तय समय में निपटाएं समस्याएं

उन्होंने अधिकारियों को बैठक में लिए सभी निर्णयों को तय समय में अमलीजामा पहनाने के निर्देश दिए। कहा अधिकारी लोगों के पास जाएं। औपचारिकताएं पूरी न होने की बात कह के मामले लटकाने की बजाय खुद आगे आकर लोगों से मिलें और औपचारिकताएं पूरी करें।

बागवानी विकास के लिए 1688 करोड़

प्रदेश में बागवानी विकास के लिए 1688 करोड़ रुपए की परियोजना शुरु की गई है। इसके तहत प्रदेशभर में बागवानी क्लस्टर बनाए जा रहे हैं। लोग क्लस्टर बनाने में बागवानी विभाग का सहयोग करें। किसानों को फसलों के विविधीकरण पर ध्यान देने को कहा।

मुख्यमंत्री का पर्यटन विकास पर ज़ोर

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर का पर्यटन विकास पर विशेष जोर है।
नई राहें नई मजिलें योजना के तहत केंद्र सरकार ने हिमाचल में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए 1892 करोड़ रुपये की परियोजना स्वीकृत की है। इससे प्रदेश के अनछुए पर्यटन गन्तव्य पर्यटन नक्शे पर उभरेंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2024 तक हर घर को नल से जल योजना से देश के हर घर में पानी की पाइप लाइन और नल से जल पहुंचाने का लक्ष्य रखा है। बहुत जल्द प्रदेश में ये अभियान शुरू होगा। जनप्रतिनिधि योजना के प्रभावी कार्यान्वयन में आईपीएच विभाग की मदद करें।

बीबीएमबी से जुड़ी शिकायतों की सुनवाई के लिए समिति गठित

बैठक में बीबीएमबी से जुड़ी शिकायतों की सुनवाई और निदान के लिए विशेष समिति का गठन किया गया। विधायक राकेश जम्वाल, विनोद कुमार और इंद्र सिंह गांधी के अलावा उपायुक्त, व पुलिस अधीक्षक और लोक निर्माण और आईपीएच विभाग के अधिकारी इसके सदस्य होंगे। समिति सदस्य क्षेत्र का दौरा कर लोगों से मिलेंगे और उनकी समस्याएं जानेंगे। इसके अलावा तिथि निर्धारित कर बीबीएमबी के अध्यक्ष के साथ मौके पर जाकर लोगों की शिकायतों की सुनवाई और समाधान के लिए काम करेगी।

प्राइवेट ड्राइविंग स्कूलों का करें निरीक्षण

दुर्घटनाओं को रोकने के लिए संबंधित अधिकारी प्राइवेट ड्राइविंग स्कूलों का औचक निरीक्षण करें। सुनिश्चित करें कि ये स्कूल सिर्फ सर्टिफिकेट बांटने का काम न करें।

विधायकों ने दिए सुझाव
बैठक में विधायक कर्नल इंद्र सिंह, राकेश जम्वाल, विनोद कुमार,हीरा लाल, इंद्र सिंह गांधी, जवाहर ठाकुर और प्रकाश राणा ने विकास कार्यों को लेकर बहुमूल्य सुझाव दिए।

गैर सरकारी सदस्यों ने उठाए मामले

इस अवसर पर शिकायत निवारण समिति के विभिन्न गैर-सरकारी सदस्यों ने अपने-अपने क्षेत्र की विभिन्न शिकायतों को समिति के समक्ष उठाया। मंत्री ने सभी समस्याओं को ध्यान से सुना और संबंधित अधिकारियों को इनके त्वरित निपटारे के निर्देश दिए।

बैठक में जिला परिषद अध्यक्ष सरला ठाकुर, नगर परिषद मंडी की अध्यक्ष सुमन ठाकुर, पुलिस अधीक्षक गुरुदेव शर्मा, विभिन्न उपमंडलों के एसडीएम सहित सभी विभागों के जिलास्तर के अधिकारी उपस्थित रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।