रुमित ठाकुर बोले- 15 मार्च तक सवर्ण आयोग का गठन न हुआ तो आंदोलन #news4
February 20th, 2022 | Post by :- | 116 Views

देवभूमि क्षत्रिय संगठन के प्रदेशाध्यक्ष रुमित ठाकुर ने कहा कि अगर सरकार ने 15 मार्च तक सवर्ण आयोग का गठन नहीं किया तो 16 मार्च से आंदोलन शुरू किया जाएगा। इसका जवाब देने के लिए मुख्यमंत्री को स्वयं आना पड़ेगा। सवर्ण समाज के 68 लाख लोगों के लिए यह आंदोलन होगा। इसकी जिम्मेदार पूरी तरह से सरकार की होगी। आंदोलन के माध्यम से सरकार को आक्रोश झेलना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि शिमला के आईएसबीटी चौक के समीप रात 12 बजे से आंदोलन शुरू होगा और राजधानी को पूरी तरह से बंद कर दिया जाएगा।

प्रदेश में अगर सवर्ण आयोग का गठन नहीं हो रहा है तो इसे दिसंबर पार्ट टू और थ्री बनाने में लोगों को कोई समय नहीं लगेगा। रुमित ने कहा कि 10 दिसंबर को प्रदेश में सवर्ण समाज ने इतिहास रचा था। विधानसभा सत्र के दौरान मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने वादा किया था कि बजट सत्र में सवर्ण आयोग को लागू करेंगे। आगामी दिनों में सत्र शुरू होने वाला है, लेकिन अभी तक आयोग के गठन का कोई प्रारूप तैयार नहीं हुआ है।

मुख्यमंत्री और मंत्री सवर्ण समाज की आवाज दबाने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं। झूठे मुकदमे दर्ज करवाकर सवर्ण संगठन के प्रदेशाध्यक्ष को अंदर किया गया। एक को अंदर करने से कोई फायदा नहीं है। अभी तक दस मामले संगठन के लोगों पर दर्ज हुए हैं। सवर्ण संगठन के प्रदेशाध्यक्ष मदन ठाकुर, उपाध्यक्ष हरी सिंह ठाकुर, शुशांक ठाकुर, विश्वजीत और अन्य लोग मौजूद रहे।

मुख्यमंत्री पंजाब व मध्यप्रदेश से लें शिक्षा
रुमित ने कहा कि आयोग के गठन को लेकर कोई परेशानी आ रही है तो मुख्यमंत्री पंजाब और मध्यप्रदेश से शिक्षा लें। जहां 15 दिन में आयोग का गठन होता है। अगर राजनीति से कोई व्यक्ति कमेटी में डाला जाता है तो वे इसका भी विरोध करेंगे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।