ग्रामीण विकास मंत्री ने तारकोल प्लांट बंद करने के दिए निर्देश
July 13th, 2019 | Post by :- | 325 Views

ग्राम पंचायत पनोह मरोला के प्रतिनिधिमंडल ने वीरेंद्र कंवर को सौंपा ज्ञापन
ऊना (13 जुलाई)- ग्राम पंचायत पनोह मरोला में चल रहे तारकोल प्लांट के विरोध में एक प्रतिनिधिमंडल ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर से आज ऊना में मिला। ग्रामवासियों ने आरोप लगाया कि आबादी के बीच चल रहा तारकोल प्लांट अवैध है, जिसे चलाने के लिए न तो ग्राम पंचायत और न ही संबंधित विभाग से कोई एनओसी ली गई है। ऐसे में इसे तुरंत प्रभाव से बंद किया जाए।
ग्रामीणों की बात सुनने के बाद ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर ने कड़ा संज्ञान लेते हुए विभाग को दो दिन के भीतर तारकोल प्लांट बंद करने के निर्देश दिए। उन्होंने पूछा कि जब विभाग और पंचायत ने इस प्लांट को चलाने की अनुमति नहीं दी है, तो फिर यह कैसे चल रहा है। उन्होंने कहा कि अगर दो दिन के भीतर प्लांट बंद नहीं किया गया तो विभागीय अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। प्रतिनिधिमंडल ने वीरेंद्र कंवर को बताया कि तारकोल प्लांट की वजह से इलाके में प्रदूषण फैल रहा है, जिसकी वजह से बच्चों व बुजुर्गों की सेहत खराब हो रही है और उनकी फसल को भी नुकसान पहुंच रहा है। प्रतिनिधिमंडल में ग्राम पंचायत प्रधान सुदेश कुमारी, वार्ड पंच राकेश कुमार व मंजूबाला सहित लगभग 30 ग्रामीण थे।
पंचायती राज विभाग के तकनीकी सहायक मंत्री से मिले
पंचायती राज विभाग के तकनीकी सहायकों का प्रतिनिधिमंडल भी ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर से मिला। उन्होंने कहा कि नियुक्ति के 10 वर्ष बाद भी लगभग 250 तकनीकी सहायक नियमित होने का इंतजार कर रहे हैं। वीरेंद्र कंवर ने उनकी बात को ध्यान से सुना और उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया।
मंत्री से मिला जिला परिषद के पंचायत सचिवों का प्रतिनिधिमंडल
ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री से बीआरजीएफ से जिला परिषद काडर में अनुबंध के आधार पर तैनात पंचायत सचिवों का एक प्रतिनिधिमंडल भी मिला। उन्होंने कहा की कि बीआरजीएफ के कर्मचारियों को जब दूसरे विभाग में मर्ज किया गया तो उनकी पुरानी सेवाओं को जोड़ कर नियमित किया गया, जबकि वह वर्ष 2002 से 2014 तक वाटर शैड परियोजनाओं से सचिव पद पर तैनात थे। उन्होंने बीआरजीएफ के दूसरे विभागों में मर्ज हुए कर्मचारियों की तर्ज पर उन्हें भी नियमित करने का अनुरोध किया। मंत्री ने पंचायत सचिवों को समस्या का सहानुभूतिपूर्वक हल करने का आश्वासन दिया। ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री ने लोक निर्माण विभाग के विश्राम गृह में जन समस्याएं भी सुनीं।
ये रहे उपस्थित
इस अवसर पर गौ सेवा आयोग के उपाध्यक्ष अशोक ठाकुर, जिला ऊना भाजपा महामंत्री यशपाल राणा, कुटलैहड़ भाजपा मंडल अध्यक्ष मनोहर लाल, महामंत्री चरणजीत शर्मा, मास्टर तरसेम, भाजपा प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य विजय शर्मा सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।