ग्रामीण विकास मंत्री वीरेंद्र कंवर ने किया ऊना सुपर-50 कार्यक्रम का शुभारंभ
June 30th, 2019 | Post by :- | 178 Views

जिला के 50 बच्चों को मिलेगी जेईई मेन्स व जेईई एडवांस की फ्री कोचिंग
मेडिकल व एनडीए की तैयारी के लिए भी जल्द शुरू होगी कोचिंगः वीरेंद्र कंवर
ऊना (30 जून)- जिला के 50 बच्चों को जिला प्रशासन की ओर से जेईई मेन्स व जेईई एडवांस की फ्री कोचिंग सुविधा मिलना शुरू हो गई है। ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज, पशु तथा मत्स्य पालन मंत्री वीरेंद्र कंवर ने ऊना सुपर-50 कार्यक्रम का आज ऊना के बीआरसीसी भवन में शुभारंभ किया।
इस अवसर पर ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर ने कहा कि हिमाचल प्रदेश के विद्यार्थी बहुत मेहनती हैं और पढ़ाई में आगे भी हैं, लेकिन सुविधाओं की कमी के चलते प्रतियोगी परीक्षाओं में प्रदर्शन उतना अच्छा नहीं रहता है। जो विद्यार्थी सुविधा संपन्न हैं, वो चंडीगढ़ या दिल्ली जैसे बड़े शहरों में जाकर महंगी कोचिंग ले पाते हैं लेकिन सभी के लिए ऐसा कर पाना संभव नहीं है। उन्होंने कहा कि आज प्रतियोगिता का दौर है, ऐसे में जिला ऊना के विद्यार्थियों को भी कोचिंग की आवश्यकता है और इसी जरूरत को पूरा करने के लिए ऊना सुपर-50 कार्यक्रम की शुरूआत की गई है। इस कार्यक्रम के तहत जिला ऊना के 50 विद्यार्थियों को दो साल तक इंजीनियरिंग की प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए अनुभवी अध्यापकों के माध्यम से कोचिंग प्रदान की जाएगी। वीरेंद्र कंवर ने कहा कि जल्द ही ऊना में इंजीनियरिंग के साथ-साथ मेडिकल व एनडीए की प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करवाई जाएगी।
सफल विद्यार्थियों को मिलेंगे 11-11 हज़ार रुपए
उन्होंने कहा कि ऊना सुपर-50 कार्यक्रम के सकारात्मक परिणाम सामने पर इस कार्यक्रम को पूरे हिमाचल प्रदेश में लागू किया जाए, ताकि बाकी जिलों के विद्यार्थियों को भी लाभ मिल सके। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के नेतृत्व में प्रदेश सरकार विद्यार्थियों को गुणात्मक शिक्षा देने का प्रयास कर रही है और इस दिशा में अनेक योजनाएं शुरू की गई हैं, ताकि प्रदेश के विद्यार्थी किसी भी क्षेत्र में पीछे न रहें और उन्हें आगे बढ़ने का भरपूर मौका मिले। इस अवसर पर उन्होंने ऊना सुपर-50 के माध्यम से आईआईटी संस्थानों में प्रवेश पाने वाले सफल विद्यार्थियों 11-11 हज़ार रुपए देने की घोषणा भी की।
जिला परिषद की ओर से पहल
इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त अरिंदम चौधरी ने कहा कि जिला परिषद के सौजन्य से ऊना सुपर-50 कार्यक्रम शुरू हुआ है और प्रदेश में इस तरह का यह पहला कार्यक्रम है जिसे पंचायती राज विभाग की ओर से किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर के मार्गदर्शन में ऊना के विद्यार्थियों को एक बड़ी सुविधा मिल गई है। उन्हें उनके घर-द्वार पर ही कोचिंग मिलेगी लेकिन यह कार्यक्रम तभी सफल होगा जब विद्यार्थी मेहनत करेंगे और अच्छे परिणाम लाकर देंगे।
ऊना सुपर-50 के लिए हुई प्रतियोगी परीक्षा
डाइट देहलां के प्रिंसिपल देवेंद्र चौहान ने बताया कि ऊना सुपर-50 में चयन के लिए जिला ऊना के 6 ब्लॉक में प्रतियोगी परीक्षा करवाई गई। केवल वही विद्यार्थी इस परीक्षा में भाग ले सकते थे, जिन्होंने 10वीं की परीक्षा में कम से कम 75 प्रतिशत अंक हासिल किए हों और किसी सरकारी स्कूल से शिक्षा ग्रहण कर रहे हों। उन्होंने बताया कि इस कार्यक्रम के अतंर्गत फ्री कोचिंग हासिल करने के लिए जिला भर से कुल 498 आवेदन आए थे, जिनमें से 438 विद्यार्थियों ने प्रतियोगी परीक्षा में भाग लिया। इसी परीक्षा के आधार पर 75 विद्यार्थियों की मेरिट लिस्ट बनी और बच्चों का चयन किया गया।
परीक्षा के टॉप तीन बच्चों को सम्मानित किया गया
कार्यक्रम के दौरान ऊना सुपर-50 के लिए हुई प्रतियोगी परीक्षा के टॉप तीन विद्यार्थियों को सम्मानित भी किया गया। इस परीक्षा में राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला घनारी के स्वास्तिक पहले स्थान पर रहे, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला हरोली की तनवी दूसरे तथा राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला बहडाला के गोपाल बैंस तीसरे स्थान पर रहे। ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री ने तीनों टॉपरों को पुस्तकें भेंट कर सम्मानित किया।
जिला परिषद ने दिया 20 लाख का चैक
इससे पहले जिला पंचायत अधिकारी ऊना रमन शर्मा ने मुख्यतिथि का स्वागत किया। इस अवसर पर जिला परिषद ऊना की अध्यक्षा सोमा देवी भरवाल व अन्य सदस्यों ने ऊना सुपर-50 कार्यक्रम के लिए जिला परिषद की ओर से 20 लाख रुपए का चैक भेंट किया। कार्यक्रम के बाद ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर ने कोचिंग क्लास रूम का निरीक्षण भी किया।
ये रहे उपस्थित
कार्यक्रम के शुभारंभ अवसर पर जिला परिषद अध्यक्षा सोमा देवी भरवाल, सदस्य इंदु बाला, कुटलैहड़ भाजपा अध्यक्ष मनोहर लाल, महामंत्री मास्टर तरसेम, धर्मवीर, मनीष, अभिषेक के अलावा परियोजना अधिकारी डीआरडीए राजेंद्र गौतम, जिला पंचायत अधिकारी रमन शर्मा, डाइट देहलां के प्रिसिंपल देवेंद्र चौहान सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।
-00-
Virender Kanwar

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।