27 सितम्बर को जोगिन्दर नगर में होने वाले पोषण मेला को लेकर आयोजित बैठक में बोले एसडीएम
September 21st, 2019 | Post by :- | 208 Views

एसडीएम जोगिन्दर नगर अमित मैहरा ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में सितम्बर माह को पोषण माह के तौर पर मनाया जा रहा है। इस दौरान बच्चों, किशोरियों, गर्भवती व धात्री माताओं के साथ-साथ परिवार के अन्य सदस्यों के भोजन में पोषक तत्वों की मात्रा को बढ़ावा देने के साथ-साथ पोषण के महत्व बारे लोगों को जागरूक किया जा रहा है। उन्होने पोषण माह अभियान के साथ समाज के प्रत्येक वर्ग की भागीदारी सुनिश्चित बनाने के लिए इसे एक जन आंदोलन बनाने की आवश्यकता पर बल दिया ताकि अभियान के लक्ष्यों व उदद्श्यों की समयबद्ध पूर्ति सुनिश्चित हो सके। अमित मैहरा आज 27 सितम्बर को जोगिन्दर नगर में आयोजित होने वाले पोषण मेले के सफल आयोजन को लेकर विभिन्न विभागीय अधिकारियों के साथ आयोजित बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।

उन्होने बताया कि पोषण माह अभियान के तहत बाल विकास परियोजना अधिकारी द्रंग के माध्यम से आगामी 27 सितम्बर को पुराने मेला मैदान जोगिन्दर नगर में पोषण मेले का आयोजन किया जा रहा है। इस दौरान पोषण रैली, हाट बाजार, पोषक पदार्थों की प्रदशर्नी, स्कूली बच्चों के लिए प्रश्नोतरी प्रतियोगिता इत्यादि जैसे अनेक कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। पोषण मेले का शुभारंभ मंडी संसदीय क्षेत्र से सांसद राम स्वरूप शर्मा करेंगे जबकि जोगिन्दर नगर के विधायक प्रकाश राणा भी कार्यक्रम में विशेष तौर पर उपस्थित रहेंगे। उन्होने पोषण मेले के आयोजन को सफल बनाने के लिए सभी संबंध विभागों से अपना यथा संभव सहयोग प्रदान करने का आहवान किया।
अमित मैहरा ने कहा कि 8 मार्च, 2018 को राजस्थान के झुंझनू से प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू किए गए पोषण अभियान के माध्यम से 0-6 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों, किशोरियों, गर्भवती एवं धात्री माताओं के पोषण स्तर में चरणबद्ध तरीके से सुधार लाना है। उन्होने पोषण अभियान के लक्ष्यों की जानकारी देते हुए बताया कि जहां 0-6 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों के ठीगनापन में प्रतिवर्ष 2 प्रतिशत की दर से 6 प्रतिशत तक कमी लाना है तो वहीं बच्चों के पोषण स्तर को बढ़ाकर कम वजन में सुधार लाना है। साथ ही 0-6 वर्ष के आयु वर्ग के बच्चों तथा 15 से 49 वर्ष आयु वर्ग की किशोरियों एवं महिलाओं में खून की कमी के आंकडे को 3 प्रतिशत वार्षिक की दर से 9 प्रतिशत तक की कमी लाना है। इसके अलावा जन्म पर बच्चों के कम वजन के आंकडे में भी 2 प्रतिशत वार्षिक की दर से 6 प्रतिशत तक की कमी लाना है। उन्होनेे इस अभियान के उदद्ेश्यों व लक्ष्यों की प्राप्ति को सभी संबंध विभागों से भी अपने-अपने स्तर पर कार्य करने का आहवान किया।
बैठक में सीडीपीओ द्रंग संतोष कुमार सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी, रोटरी क्लब जोगिन्दर नगर के पदाधिकारी तथा स्वयं सेवी संस्थाओं के प्रतिनिधि मौजूद रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।