16 दिन बाद भी सख्त कार्रवाई न करने पर शांता कुमार ने साधा सरकार पर निशाना
April 2nd, 2020 | Post by :- | 133 Views

निजामुद्दीन में सामने आए घटनाक्रम पर भाजपा नेता शांता कुमार की तीखी प्रतिक्रिया सोशल मीडिया के माध्यम से सामने आई है। सोशल मीडिया पर अपने बनाए पेज पर जिस प्रकार से शांता कुमार ने दिल्ली और केंद्र सरकार पर सवाल खड़े कर इस घटना को देश के लिए शर्मसार बताया है। बकौल शांता, तब्लीगी जमात का पूरे देश में कोरोना कहर बताया है। 16 दिन बीतने के बाद भी आज तक कोई सख्त कार्रवाई नहीं हुई है।

शांता कुमार ने यह भी प्रमुखता से लिखा कि दिल्ली में दो सरकारें हैं। दोनों सरकारों की नाक नीचे तीन हज़ार लोग इकट्ठे होते रहे, मस्जिदों में लोगों को इकट्ठा करने के लिए भाषण होते रहे। पता तब लगा जब कोरोना कहर से लोग मरने लगे। कार्यक्रम से एक दिन में रोगियों की संख्या 373 बढ़ गई और देश में कोरोना फैल गया। इस एक गलती से सैकड़ों लोग मरेंगे, यह हत्याएं हैं, कौन हैं इनके लिए जिम्मेदार? सरकार भाषण रोक सकती थी, हजारों लोगों को जमात में आने से रोक सकती थी, क्यों सोई रही दो सरकारें। बदहवास गरीब सड़कों पर रोक दिए गए परंतु देश की राजधानी में तब्लीगी जमात द्वारा इतना गंभीर अपराध क्यों होने दिया गया। इस प्रकार की गलतियां देश को बर्बाद कर सकती हैं।

निजामुद्दीन इलाके के लोग भी क्यों चुप देखते रहे। एकदम शिकायत करते और शोर मचाते। सरकार के सोए अधिकारियों को जगाते। उल्लेखनीय है कि स्पष्टवादिता के लिए शांता कुमार जाने जाते हैं। स्पष्टवादिता के कारण उन्हें कई मर्तबा नुकसान भी उठाना पड़ा है मगर जिस प्रकार से दिल्ली की घटना पर उन्होंने सोशल मीडिया के माध्यम से प्रतिक्रिया जाहिर की है, उसे व्यापक समर्थन जनता का उन्हें मिला है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।