मैट्रो सिटीज की तर्ज पर रानी झांसी पार्क में बनेगा शिमला का पहला एम्यूजमैंट पार्क #news4
November 16th, 2021 | Post by :- | 314 Views

शिमला : मैट्रो सिटीज की तर्ज पर शिमला के रानी झांसी पार्क में शहर का पहला एम्यूजमैंट पार्क बनाया जाएगा। इसके तहत यहां पर बच्चों के खेलने के लिए बड़े-बड़े झूलों के साथ-साथ अन्य उपकरण स्थापित किए जाएंगे, ताकि स्थानीय लोगों के साथ बाहरी राज्यों से शिमला घूमने आने वाले पर्यटकों को भी यहां पर एम्यूजमैंट पार्क की सुविधा मिल सके। शिमला स्मार्ट सिटी प्रोजैक्ट के तहत यहां पर इस तरह का पार्क विकसित करने के निर्देश सरकार ने दिए हैं। रानी झांसी पार्क में अतिआधुनिक तकनीक के झूले लगाए जाने हैं।

सैल्फी प्वाइंट्स के तौर पर विकसित किया जाएगा पार्क

इसके अलावा शहर के बीचोंबीच इस पार्क की खूबसूरती बढ़ाने के लिए यहां पर तरह तरह के हरे-भरे प्लांट्स भी लगाए जाएंगे, साथ ही इस स्थल को बच्चों और पर्यटकों के लिए सैल्फी प्वाइंट्स के तौर पर भी विकसित किया जाएगा, इसके लिए नगर निगम ने प्रक्रिया को शुरू कर दिया है। रानी झांसी पार्क में ब्यूटीफिकेशन का काम शुरू कर दिया गया है। नगर निगम आयुक्त आशीष कोहली ने कहा कि रानी झांसी पार्क को एम्यूजमैंट पार्क के तौर पर विकसित किया जा रहा है। इसका कार्य चल रहा है। स्मार्ट सिटी के तहत इसका कार्य किया जाना है। प्रोजैक्ट के तहत शहर में ढेरों विकास कार्यों को अमलीजामा पहनाया जा रहा है। इसी के तहत शहर में वार्ड स्तर पर पार्कों का निर्माण किया जा रहा है।

दादा-दादी पार्क को रानी झांसी पार्क से इंटरलिंक करने की भी योजना

रानी झांसी पार्क और शहर के पहले दादा-दादी पार्क को नगर निगम आपस में इंटरलिंक करने जा रहा है ताकि बुजुर्गों के साथ-साथ युवाओं, बच्चों और महिलाओं को एक ही पार्क में घूमने-फिरने की सुविधा मिल सके। रानी झांसी पार्क में हर वर्ग के लोग घूमने आते हैं जबकि दादा-दादी पार्क वरिष्ठ नागरिकों के लिए बनाया गया है, ऐसे में शहर के बीचों-बीच स्थित इन दोनों ही पार्क को आपस में कनैक्ट किया जा रहा। स्मार्ट सिटी प्रोजैक्ट के तहत इन दोनों ही पार्कों की कायाकल्प होगी। इसके तहत रानी झांसी पार्क को दादी-दादी पार्क से जोड़ने के लिए यहां पर वॉकिंग ट्रैक बनाई जाएगी, जिससे दोनों पार्क आपस में जुड़ सकेंगे। खास बात यह होगी कि रानी झांसी पार्क में छोटे बच्चों के खेलने के लिए प्ले-वे स्कूल खोला जाएगा। साथ ही पार्क में घूमने आने वाले लोगों को यहां पर चाय-कॉफी, स्नैक्स के साथ अन्य खाने-पीने की वस्तुएं मिल सकेंगी। इस पार्क को नगर निगम पूरी तरह से कमर्शियल कर देगा यहां पर व्यावसायिक गतिविधियां शुरू की जाएंगी, जिससे पार्क में घूमने आने वाले लोगों को पार्क के अंदर की खाने-पीने की सभी वस्तुएं आसानी से मिल सकें।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।