मनाली में आग की भेंट चढ़ी दुकान, लाखों का नुकसान
November 15th, 2019 | Post by :- | 146 Views

पर्यटन नगरी मनाली के धार्मिक पर्यटन स्थल ढूंगरी में एक दुकान जलकर राख हो गई है। रात साढ़े 10 बजे लगी आग के कारण ढूंगरी में अफरा तफरी मच गई। सूचना मिलते ही मनाली बाजार से अग्निश्मन विभाग मनाली की टीम मौके पर पहुंची और आग बुझाने का काम शुरू किया। दुकान में आग इतनी तेजी से फैली की आग ने पूरी दुकान को अपने कब्जे में ले लिया। आग लगने से जम्मू निवासी बौद्ध राज पुत्र पूर्ण की दुकान में रखी कश्मीरी शॉल, कम्बल, कारपेट, गलीचे व पेंटिंग जलकर राख हो गई।

अग्निश्मन केंद्र मनाली के प्रभारी प्रेम सिंह ने बताया कि यह दुकान गोड परिवार की थी और जम्मू का बौद्ध राज उनका किरायेदार था जो लदाख हैंडलूम एम्पोरियम नामक दुकान चला रहा था। उन्होंने बताया कि आज लगने की सूचना रात लगभग 11 बजे मिली। उन्होंने बताया कि दुकान पर रखा सारा सामान जलकर राख हो गया लेकिन साथ लगते 4 मंजिल मकान को बचा लिया गया है। उन्होने बताया कि आग लगने से लगभग 15 लाख का नुकसान हुआ है। मनाली थाना प्रभारी मोहन रावत ने बताया कि पुलिस ने मामला दर्जकर छानवीन शुरू कर दी है।

ओबड़ी में खाना बनाते झुलसा व्यक्ति, गंभीर

नगर परिषद चंबा के सुल्तानपुर वार्ड के तहत ओबड़ी मोहल्ला में खाना बनाते समय एक व्यक्ति झुलस गया। गनीमत यह रही कि जिस समय गैस सिलेंडर लीक हुआ, उस वक्त परिवार के अन्य सदस्य घर में ही मौजूद थे। वरना हादसे गंभीर हो सकता था। लोगों ने समय रहते आग पर काबू पा लिया। यदि समय रहते आग पर काबू न पाया जाता तो कोई अनहोनी हो सकती थी। व्यक्ति को प्राथमिक उपचार के बाद लुधियाना में आगामी उपचार के लिए ले जाया गया है।

संजय ठाकुर (44) पुत्र ज्ञान चंद निवासी मोहल्ला ओबड़ी वीरवार सुबह रसोइघर में खाना बना रहा था। इस दौरान अचानक घरेलू गैस सिलेंडर से गैस लीक होने लगी। गैस के लीक होते ही उसने आग पकड़ ली, जिसमें संजय ठाकुर आग की चपेट में आ गया। इससे उसकी चीख निकल गई। चीख सुनते ही परिजन

रसोइघर की तरफ दौड़े तथा उन्होंने जैसे-तैसे करके संजय को रसोइघर से बाहर निकालते हुए आग पर काबू पा लिया, लेकिन, तब तक काफी देर हो चुकी थी। आग की चपेट में आने के कारण संजय ठाकुर का चेहरा, टांगें तथा हाथ को नुकसान पहुंचा है। इस पर परिजनों द्वारा देर न करते हुए उसे मेडिकल कॉलेज चंबा पहुंचाया गया।

जहां पर उसका उपचार किया जाएगा। उधर, चिकित्सा अधीक्षक मेडिकल कॉलेज चंबा डॉ. विनोद शर्मा ने बताया कि आग से जलने के बाद संजय को मेडिकल कॉलेज में लाया गया था, जहां पर उसका प्राथमिक उपचार किया गया है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।