क्या राधा-कृष्ण की प्रतिमा गिफ्ट नहीं करना चाहिए, जानिए सचाई
January 18th, 2023 | Post by :- | 25 Views
राधा-कृष्ण को प्यार का प्रतीक माना जाता है। लेकिन क्या आपको पता है कि कभी भी नवविवाहित जोड़े को राधा-कृष्ण की मूर्ति उपहार के तौर पर नहीं देना चाहिए। क्योंकि राधा-कृष्ण का विवाह कभी नहीं हुआ था। वो बस कुछ अवधि तक ही साथ रहे थे।

ऐसे में हिन्दू धर्म में इस चीज को शुभ और अशुभ दोनों ही माना जाता है। राधा-कृष्ण के बीच इतना अधिक प्रेम होने के बावजूद दोनों विवाह के बंधन में नहीं बांध पाएं थे। इसलिए नवविवाहित जोड़े को कभी राधा-कृष्ण की मूर्ति गिफ्ट नहीं करना चाहिए।
वैवाहिक जीवन में आएगा मिठास- 
ऐसे तो बेडरूम में भगवान की तस्वीर लगाना शुभ नहीं माना जाता है, लेकिन यदि राधा-कृष्ण की तस्वीर हो तो इसे बेडरूम में लगाया जा सकता है। क्योंकि राधा-कृष्ण को प्रेम का प्रतीक माना जाता है। बेडरूम में इनकी तस्वीर लगाने से वैवाहिक जीवन में मिठास आती है। साथ ही पति-पत्नी के बीच तनाव काम होता है और आपस में प्यार और विश्वास बढ़ता है।
किस दिशा में लगाना चाहिए तस्वीर- 
अगर आप अपने बेडरूम में राधा-कृष्ण की तस्वीर लगाना चाहते हैं तो आप उत्तर-पूर्व दिशा में लगा सकते हैं क्योंकि राधा-कृष्ण की मूर्ति लगाने के लिए ये दिशा शुभ मानी जाती है। अगर आपके रूम में अटैच बाथरूम है तो आप तस्वीर को बाथरूम के दीवार पर नहीं लगाएं।

साथ ही आप इस बात का भी ध्यान रखें कि आप जो तस्वीर लगा रहे हैं उसमें सिर्फ राधा-कृष्ण ही हो, साथ में गोपियों वाली तस्वीर को अपने बेडरूम में नहीं लगाएं। अगर आप राधा-कृष्ण के बचपन की फोटो को लगा रहें हैं तो आप उस तस्वीर को पूर्व दिशा में ही लगाएं।
राधा-कृष्ण की तस्वीर की जगह क्या दे सकते हैं- 
वैसे तो नव विवाहित जोड़ों के लिए कई तोहफे हो सकते हैं। लेकिन अगर आप भगवन की तस्वीर ही गिफ्ट करना चाहते हैं तो आप राधा-कृष्ण की मूर्ति की जगह शिव-पार्वती, विष्णु-लक्ष्मी की मूर्ति दे सकते हैं।

कृष्ण और राधा को विष्णु और लक्ष्मी का अवतार ही माना गया है, इसलिए ये बहुत शुभ माना जाता है। साथ ही ये तस्वीर सुख-समृद्धि का प्रतीक भी मानी जाती है।

अस्वीकरण (Disclaimer) : चिकित्सा, स्वास्थ्य संबंधी नुस्खे, योग, धर्म, ज्योतिष आदि विषयों पर news4 में प्रकाशित, आलेख एवं समाचार सिर्फ आपकी जानकारी के लिए हैं। इनसे संबंधित किसी भी प्रयोग से पहले विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।