सिक्किम के पायलट ने बिलासपुर में गंवाई जान
February 29th, 2020 | Post by :- | 157 Views

बिलासपुर – बिलासपुर की बंदलाधार से पैराग्लाइडिंग की बारीकियां सीख रहे सिक्किम के एक पायलट की टेकऑफ करने के बाद अचानक गोबिंदसागर झील में गिरने से मौत हो गई। बताया जा रहा है कि वह बंदला से टेकऑफ के बाद एसआईवी एक्टिविटीज करते समय अचानक संतुलन बिगड़ने के बाद सीधे गोबिंदसागर झील में जा गिरा। मृतक की पहचान सिक्किम के गंगटोक निवासी 27 वर्षीय टेनश्रिंग लैपचा के रूप में की गई है। वहीं, बिलासपुर में किसी पैराग्लाइडिंग पायलट की मृत्यु का यह पहला मामला है। जानकारी के अनुसार पुणे (महाराष्ट्र) का एक पैराग्लाइडिंग ट्रेनिंग स्कूल एसआईवी कोर्स के लिए ग्रुप लेकर बिलासपुर आया है। इस ग्रुप के प्रशिक्षु पिछले कुछ दिनों से बंदला टेकऑफ साइट से उड़ान भरकर गोबिंद सागर के ऊपर पैराग्लाइडिंग की एडवांस एक्टिविटीज़ की प्रैक्टिस कर रहे हैं। बताया जा रहा है कि सिक्किम के इस पायलट ने शुक्रवार दोपहर बाद करीब चार बजे बंदला से टेकऑफ किया। थोड़ी देर वाह वह हवा में गोल चक्कर लगाते हुए गोबिंदसागर झील में जा गिरा। हालांकि पहले से मौजूद रेस्क्यू टीम ने उसे पानी से बाहर निकालकर अस्पताल पहुंचाया, लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी। डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। आशंका जताई जा रही है कि उसे हवा में ही हार्ट अटैक न हुआ हो। उधर, इस संदर्भ में डीएसपी हैडक्वार्टर संजय शर्मा ने सिक्किम के पैराग्लाइडिंग पायलट की मृत्यु की पुष्टि करते हुए बताया कि मृतक के परिजनों को सूचित कर दिया गया है। शनिवार को पोस्टमार्टम करवाया जाएगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।