कोरोना देश में LIVE / अब तक 1050 मामले: केंद्र का राज्यों को निर्देश- लॉकडाउन में पलायन करने वालों को घर भेजने से पहले 14 दिन क्वारैंटाइन किया जाए, शहर के अंदर भी आवाजाही रोकें
March 29th, 2020 | Post by :- | 163 Views

नई दिल्ली. देश में कोरोना संक्रमण के मामले एक हजार के पार हो गए हैं। अब तक 30 लोगों की जान गई है। दिहाड़ी मजदूर और ऐसे ही कामगार हजारों की तादाद में मुंबई, जयपुर, सूरत जैसी जगहों से अपने-अपने राज्यों की ओर जा रहे हैं। हालात को देखते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि ऐसे मजदूरों का मूवमेंट रोका जाए। इन लोगों को सीमाओं पर ही 14 दिन के लिए क्वारैंटाइन किया जाए और राज्य अपनी तरफ से इन लोगों के खाने-पीने का इंतजाम करें। इसके अलावा कंपनियों से कहा गया है कि वे अपने वर्कर्स की सैलरी ना काटें और वक्त पर उन्हें पैसा दें। राज्यों की पुलिस को निर्देश दिए गए हैं कि किसी भी किराएदार से मकान मालिक एक महीने तक किराया ना मांगे, ताकि वे वहीं बने रहें।

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से लव अग्रवाल ने कहा- बीते 24 घंटे में 6 मौतें हुई। देश में अब तक 25 लोगों की कोरोना से जान गई है। हम विदेशों से भी मास्क और वेंटिलेटर की सप्लाई ले रहे हैं। इसके अलावा अस्पतालों में हेल्थ फैसिलिटी को अपग्रेड किया जा रहा है। प्रधानमंत्री ने आयुष मंत्रालय के अधिकारियों के साथ चर्चा कर टेलीमेडिसिन को बढ़ावा देने पर बल दिया है। कोरोना के खिलाफ पूरे देश में युद्ध स्तर पर काम हो रहा है। रेलवे खाने-पीने और जरूरी चीजों की आपूर्ति के लिए काम कर रहा है।

क्या कहती है सरकार:

स्वास्थ्य मंत्रालय: मरने वालों को दूसरी बीमारियां भी थीं

अग्रवाल ने कहा- सरकार ने लॉकडाउन के दौरान हाईवे और शहर के अंदर लोगों की आवाजाही रोकने के लिए सख्त निर्देश दिए हैं। कोरोना मरीजों की मौत और उनकी बीमारियों पर अग्रवाल ने कहा कि मरने वाले कुछ लोगों को पहले से डायबिटीज, किडनी और ब्लडप्रेशर से जुड़ी समस्याएं थीं।

गृह मंत्रालय: चूक होने पर डीएम-एसएसपी जिम्मेदार

लॉकडाउन के दौरान लोगों की आवाजाही को लेकर गृह मंत्रालय ने कहा- हम लॉकडाउन को सख्ती से लागू कराने के लिए 24 घंटे निगरानी कर रहे हैं। मंत्रालय ने सभी राज्यों को निर्देश दिए हैं कि किसी भी राज्य की बॉर्डर या हाईवे पर लोगों की आवाजाही न हो। अगर आदेश के क्रियान्वयन में चूक हुई, तो उसके लिए जिले के डीएम और एसएसपी जिम्मेदार होंगे। राज्यों से कहा गया है कि राज्य आपदा कोष से बॉर्डर पर ही मजदूरों के लिए खाने-पीने और 14 दिन के क्वारैंटाइन का इंतजाम किया जाए।

आईसीएमआर: लॉकडाउन से गंभीर स्थिति टल सकती है

आईसीएमआर ने कहा- देशभर में 113 लैब में कोरोना की टेस्टिंग हो रही है। 47 प्राइवेट लैब को भी जांच की मंजूरी दी गई है। ओडिशा में वर्ल्ड क्लास टेस्टिंग मशीन भी कुछ दिन में मिल जाएगी। संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं। पीक सिचुएशन अभी आना बाकी है। अगर लॉकडाउन का पूरी तरह पालन करेंगे, तो शायद ज्यादा गंभीर स्थिति से बच जाएं।
13 राज्यों के हाल

  • मध्यप्रदेश; कुल संक्रमित- 39: राज्य में रविवार को कोई नया मामला सामने नहीं आया। हालांकि, शनिवार रात 5 नए मामले सामने आए। 4 मरीज इंदौर में और एक उज्जैन में मिला। इंदौर में संक्रमित मिले चारों मरीज पुरुष हैं और उनकी उम्र 48 साल, 40 साल, 38 साल और 21 साल है। वहीं, उज्जैन में 17 साल की लड़की की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इनमें से कोई भी हाल के दिनों में विदेश यात्रा पर नहीं गया था। अब इंदौर में सबसे ज्यादा 20 पॉजिटिव हैं। इसके बाद जबलपुर में 8, उज्जैन में 4, भोपाल में 3, शिवपुरी-ग्वालियर में 2-2 संक्रमित हैं। प्रदेश में अब तक 2 लोगों की मौत हुई है।
  • राजस्थान; कुल संक्रमित- 56: राज्य में रविवार को संक्रमण के 2 मामले सामने आए। भीलवाड़ा में 53 साल की महिला और झुंझुनूं में 21 साल का युवक पॉजिटिव पाया गया। युवक 18 मार्च को फिलीपींस से लौटा था। 26 मार्च को उसे बीमारी के लक्षण दिखाई दिए। राज्य में भीलवाड़ा में सबसे ज्यादा 21 कोरोना संक्रमित हैं।
  • उत्तरप्रदेश; कुल संक्रमित- 69: यहां गौतम बुद्ध नगर में रविवार को 4 नए मामले सामने आए। इस जिले में सबसे ज्यादा 29 मरीज हैं। जिले के चीफ मेडिकल ऑफिसर अनुराग भार्गव ने बताया है कि यहां एक कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्टर के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। उस पर ट्रैवल हिस्ट्री छिपाने का आरोप है। उसकी कंपनी के 13 कर्मचारी संक्रमित पाए गए हैं।
  • महाराष्ट्र; कुल संक्रमित- 193: राज्य में आज 7 मामले सामने आए। यहां सबसे ज्यादा 71 संक्रमित मुंबई में हैं। इसके बाद पुणे में 29, सांगली में 25 और नागपुर में 10 मरीज हैं। पिंपरी-चिंचवड़ के नगरीय निकाय आयुक्त श्रवण हार्डिकर का कहना है कि पुणे में 5 मरीजों की लगातार दो रिपोर्ट निगेटिव आई हैं। उनकी रविवार को अस्पताल से छुट्‌टी कर दी गई। महाराष्ट्र में शनिवार को 30 नए मामले सामने आए थे।
  • बिहार; कुल संक्रमित- 11: यहां रविवार को कोई नया मामला सामने नहीं आया। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में बताया जा रहा है कि राज्य में बीते कुछ घंटों में 469 संदिग्धों को निगरानी में लिया गया है। शनिवार तक संदिग्धों की संख्या 1907 थी जो अब बढ़कर 2376 हो गई है। शनिवार को राज्य में कोरोना संक्रमण के दो नए केस सामने आए थे। 11 संक्रमितों में से 10 का इलाज चल रहा है। जबकि 38 साल के मरीज की पटना में 21 मार्च को मौत हो गई थी।
  • गुजरात; कुल संक्रमित- 58: अहमदाबाद में रविवार को 3 संक्रमित मिले, जबकि 45 साल के एक व्यक्ति की मौत हो गई। डॉक्टरों के मुताबिक, वह डायबिटिक था। अहमदाबाद में ही सबसे ज्यादा 20 संक्रमित हैं। राज्य में अब तक इस संक्रमण से 5 मौत हो चुकी हैं।
  • छत्तीसगढ़; कुल संक्रमित- 7: रविवार को यहां कोई नया मामला सामने नहीं आया। शनिवार को एक युवक संक्रमित पाया गया था। वह हाल ही में लंदन से लौटा था। उसे होम क्वारैंटाइन किया गया था। इसके बावजूद वह लोगों से मिलता जुलता रहा। अब प्रशासन उसके खिलाफ कार्रवाई करने की तैयारी में है। इस बीच, रायपुर में पुलिस ने लॉकडाउन के दौरान ड्रोन से निगरानी शुरू की है। सिविल लाइन एसपी पंकज चंद्र ने बताया कि घनी बस्तियों और संकरी गलियों में ड्रोन से नजर रखी जा रही है।
  • उत्तराखंड, कुल संक्रमित- 6: यहां रविवार को कोई नया मामला सामने नहीं आया। इस बीच, उधम सिंह नगर के कलेक्टर ने किसानों को फसलों की हार्वेस्टर से कटाई की अनुमति दे दी है। इसके लिए खेत में सिर्फ 3 लोगों को जाने की इजाजत दी गई है। कटाई पूरी होने के बाद ही इसमें लगे व्यक्ति घर लौटेंगे।
  • जम्मू-कश्मीर; कुल संक्रमित- 38: यहां रविवार को 5 नए केस सामने आए। इनमें से श्रीनगर-बड़गाम में 2-2 और बारामूला में 1 संक्रमित मिला। राज्य में सबसे ज्यादा 15 संक्रमित श्रीनगर में हैं।
  • पंजाब; कुल संक्रमित- 39: रविवार को यहां नया मामला सामने नहीं आया। शनिवार को 1 संक्रमित मिला था। इस बीच, राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बलवीर सिंह ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री को चिठ्ठी लिखी है। इसमें उन्होंने बताया है कि राज्य में एनआरआई की संख्या बहुत ज्यादा है। इसी महीने 90 हजार प्रवासी भारतीय पंजाब आए हैं। ऐसे में कोरोना संक्रमितों की संख्या तेजी से बढ़ने की आशंका है। इससे लड़ने के लिए राज्य को 150 करोड़ के अतिरिक्त फंड की जरूरत पड़ेगी।
  • आंध्रप्रदेश; कुल संक्रमित- 19: राज्य में गुंटूर, कृष्णा और विशाखापट्‌टनम सबसे ज्यादा प्रभावित हैं। यहां 4-4 मरीज हैं। इस बीच राज्य सरकार ने यहां मोबाइल रायतु बाजार चलाने का फैसला किया है। इसमें किसान अपनी सब्जियां सीधे बेच सकेंगे। इसका मकसद बाजार से भीड़ कम करना है। इस बाजार में लॉरी पर सब्जी खरीदी और बेची जाएगी।
  • तमिलनाडु; कुल संक्रमित- 42: शनिवार को यहां 4 नए पॉजिटिव मिले। कुम्बकोणम में 42 साल का व्यक्ति संक्रमित मिला, जो वेस्टइंडीज से लौटा था। वहीं, काटपड़ी में 49 साल का व्यक्ति संक्रमित मिला। वह ब्रिटेन से लौटा था। दोनों को वेल्लोर में भर्ती किया गया है। इस बीच, चेन्नई में आइसोलेशन वार्ड में भर्ती तीन मरीजों की शनिवार को मौत हो गई। हालांकि, अभी यह स्पष्ट नहीं है कि वे कोरोना पॉजिटिव थे। उनकी टेस्ट रिपोर्ट का इंतजार है। मृतकों में एक की उम्र 66 साल थी। उन्हें किडनी की गंभीर समस्या थी। 24 साल के दूसरे मृतक को निमोनिया की शिकायत थी। तीसरा मृतक दो साल का बच्चा है, जो ऑस्टियोपेट्रेटिस (हडि्डयों की बीमारी) से पीड़ित था।

 

वायुसेना स्वास्थ्य से संबंधित सामानों की सप्लाई में जुटी

भारतीय वायुसेना इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) और कुछ एजेंसियों की मांग पर स्वास्थ्य सुविधाओं से संबंधित सामानों की सप्लाई में जुट गई है। इसके लिए सी-17, सी-130 सुपर हरक्युलस, एएन-32 और डोर्नियर एयरक्राफ्ट का इस्तेमाल किया जा रहा है।

स्पाइस जेट का ऑफिसर संक्रमित मिला
स्पाइस जेट का एक ऑफिसर संक्रमित पाया गया है। उनकी रिपोर्ट 28 मार्च को आई। उन्होंने इस साल मार्च में किसी भी इंटरनेशनल फ्लाइट को ऑपरेट नहीं किया। उन्होंने आखिरी बार 21 मार्च को चेन्नई से दिल्ली की फ्लाइट में उड़ान भरी थी। इसके बाद उन्होंने खुद को क्वारैंटाइन कर लिया था। अब एहतियात के तौर पर उनके सीधे संपर्क में आए पूरे स्टाफ और क्रू मेंबर्स को 14 दिन के लिए सेल्फ क्वारैंटाइन होने की सलाह दी गई है।

ईरान से 284 भारतीय नागरिकों को लाया गया जोधपुर

कोरोना प्रभावित ईरान में फंसे 284 भारतीय नागरिकों को दिल्ली से लेकर दो विशेष विमान रविवार सुबह जोधपुर पहुंचे। एयरपोर्ट पर सेना के डॉक्टरों ने इनकी जांच की। इन्हें सभी को सैन्य क्षेत्र में सेना की तरफ से बनाए गए वेलनेस सेंटर में भेज दिया गया है। चार दिन पहले ईरान से 277 भारतीय नागरिकों को भी जोधपुर लाया गया था। इस तरह अब शहर में सेना के वेलनेस सेंटर में भारतीय नागरिकों की संख्या बढ़कर 561 हो गई है। इससे पूर्व जैसलमेर में 484 भारतीय नागरिकों को रखा जा रहा है।
एलपीजी की कमी नहीं, सिलेंडर मिलता रहेगा: आईओसी

इंडियन ऑयल कॉर्पाेरेशन (आईओसी) ने भरोसा दिलाती है कि लॉकडाउन के दौरान एलपीजी और घरेलू सिलेंडर की अभी कोई कमी नहीं है। इसकी सप्लाई पहले की तरह होती रहेगी।

जिंदल साउथ वेस्ट ग्रुप 100 करोड़ और उदय कोटक 50 करोड़ दान देंगे
कोरोनावायरस आपदा से निपटने के लिए प्रधानमंत्री राहत कोष में लगातार दान दिया जा रहा है। रविवार को जिंदल साउथ वेस्ट (जेएसडब्ल्यू) ग्रुप ने 100 करोड़ रुपए, कोटक महिंद्रा बैंक के एमडी उदय कोटक ने निजी तौर पर 50 करोड़ रुपए और एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने 20 करोड़ रुपए दान देने का फैसला किया। इसके अलावा सीबीआई के सभी कर्मचारियों-अधिकारियों ने एक दिन का वेतन, जबकि सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन (सीबीएसई) 21 लाख रुपए का दान देने की घोषणा की है। इसके लिए विभाग के ग्रुप ए के कर्मचारी दो दिन का वेतन और गुप बी व सी के कर्मचारी एक दिन का वेतन दान करेंगे। वहीं, नेशनल कॉन्फ्रेंस की ओर से पार्टी अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला ने श्रीनगर के 3 अस्पतालों 50-50 लाख रुपए का दान दिया है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।