अब तक 11 हजार 909 केस; महाराष्ट्र में 117 और गुजरात में 56 नए संक्रमित मिले, सरकार ने कहा- अभी 23 लाख टेस्टिंग किट मिलीं
April 15th, 2020 | Post by :- | 160 Views

देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 11 हजार 921 हो गई है। बुधवार को महाराष्ट्र में 117 नए मरीज मिले, इनमें से 66 मुंबई और 44 पुणे के हैं। वहीं,  गुजरात में बुधवार को 56 नए मामले सामने आए। इस बीच, मुख्यमंत्री विजय रूपाणी का टेस्ट निगेटिव रहा। उनसे मंगलवार को कोरोना पॉजिटिव कांग्रेस विधायक इमरान खेड़ावाला ने मुलाकात की थी। रूपाणी के सचिव ने बताया कि अब मुख्यमंत्री सेल्फ आइसोलेशन में रहेंगे और घर से ही कामकाज संभालेंगे। वहीं, मध्यप्रदेश के इंदौर में 117, राजस्थान में 41 और बंगाल में 23 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई। यह आंकड़े covid19india.org और राज्य सरकारों से मिली जानकारी के अनुसार हैं। केंदीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया है कि अब तक 23 लाख टेस्टिंग किट मिल चुकी हैं।

इधर, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने बुधवार को कहा कि कोरोनावायरस के खिलाफ लड़ाई में अगले 2-3 हफ्ते बहुत अहम होंगे। खासतौर पर भारत में। उन्होंने कहा कि देश में 400 ऐसे जिले हैं, जहां कोविड-19 नहीं पहुंचा है। फिलहाल हम यह पता करने में कामयाब रहे हैं कि वायरस कहां तक फैला है।

लगातार दो दिन कोरोना के 1 हजार से ज्यादा नए मामले

इससे पहले, स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार सुबह बताया कि बीते 24 घंटे में देश में कोरोना के 1 हजार 76 नए मामले सामने आए। इससे पहले 13 अप्रैल को 1 हजार 242, 10 अप्रैल को 871 और 11 अप्रैल को 854 मरीज मिले थे। स्वास्थ्य मंत्रालय हर दिन सुबह-शाम पिछले 24 घंटे के आंकड़े जारी करता है। वहीं, covid19india.org हर सुबह से काउंटिंग शुरू करती है। इस कोरोना ट्रैकर के मुताबिक, मंगलवार सुबह से रात तक 1 हजार 33 नए मरीज मिले।

कोरोना अपडेट

– देश में फंसे अपने 180 नागरिकों की वापसी के लिए पाकिस्तान उच्चायोग ने भारत सरकार से संपर्क किया है। सरकारी सूत्रों के मुताबिक, इन लोगों की वापसी के लिए विदेश मंत्रालय पाकिस्तानी एजेंसियों के सम्पर्क में है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि देश में कोरोना संक्रमण को लेकर 3 कैटेगरी हॉटस्पॉट, नॉन हॉटस्पॉट और ग्रीन जोन बनाई गई हैं। मंगलवार तक 170 जिले ऐसे मिले हैं, जो हॉटस्पॉट घोषित किए गए। 207 अन्य जिले अभी हॉटस्पाट नहीं हैं, लेकिन इनमें संक्रमण के मामले बढ़ने की आशंका है। मामलों की संख्या के हिसाब से राज्यों को पीपीई किट मुहैया करा रहे हैं। कुल 73 लाख टेस्टिंग किट खरीदने को मंजूरी दी गई है, इनमें से 23 लाख मिल चुकी हैं।

– वहीं, आईसीएमआर ने कहा कि चीन में हुई खोज में ऐसी बात सामने आई थी कि चमगादड़ों में म्यूटेशन के कारण कोरोनावायरस पनपा है। फिर पैंगोलिन में पहुंचा और यहां से वायरस इंसान के अंदर आया। हमने भी दावे की पड़ताल की, जिसमें 2 प्रकार की चमगादड़ों में कोरोनावायरस मिला है, लेकिन यह इंसान को नुकसान पहुंचाने के काबिल नहीं था। यह बहुत दुर्लभ है कि 1 हजार साल में वायरस चमगादड़ों से इंसान तक पहुंचता है।

– रेल मंत्रालय के मुताबिक, कोरोना के खिलाफ लड़ाई में रेलवे अप्रैल तक 30 हजार पीपीई किट तैयार करेगा। इसके बाद मई तक 1 लाख किट मुहैया कराने का लक्ष्य रखा गया है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।