अब तक 724 मामले: शिरडी के श्री साईबाबा संस्थान ट्रस्ट ने मुख्यमंत्री राहत कोष में 51 करोड़ रुपए दान किए
March 27th, 2020 | Post by :- | 226 Views

कोरोनावायरस से देश में 20वीं मौत शुक्रवार को कर्नाटक के तुमकुर में हुई। संक्रमित व्यक्ति की उम्र 65 साल थी। वह 5 मार्च को दिल्ली गया था और 11 मार्च को लौटा था। तुमकुर के डिप्टी कमिश्नर डॉ के राकेश कुमार ने कहा कि उसके साथ सफर करने वाले सभी यात्रियों का पता लगाया जा रहा है। देश में कोरोनावायरस संक्रमण के अब तक 724 मामले सामने आ चुके हैं। इनमें से 66 लोग ठीक हो चुके हैं। गुरुवार को एक दिन में सबसे ज्यादा 6 लोगों ने दम तोड़ा। इस बीच कोरानावायरस आपदा से निपटने के लिए शिरडी के श्री साईबाबा संस्थान ट्रस्ट ने मुख्यमंत्री राहत कोष में 51 करोड़ रुपए दान किए हैं।

कोरोनावायरस संक्रमण के खिलाफ हर स्तर पर लड़ाई लड़ी जा रही है। भारतीय सेना भी इसमें अपना योगदान दे रही है। आर्मी ने इस अभियान को ‘ऑपरेशन नमस्ते’ नाम दिया है। सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे ने कहा कि हम पिछले अभियानों में सफल रहे हैं और आगे ‘ऑपरेशन नमस्ते’ में भी सफल होंगे।

सचिन ने 50 लाख रुपए दान किए

पूर्व क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री राहत कोष में 25-25 लाख रुपए दान दिया है। इससे पहले सौरव गांगुली ने गरीबी रेखा से नीचे जीवनयापन करने वालों के लिए 50 लाख रुपए के चावल दान किए थे। सौराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन गुजरात ने भी प्रधानमंत्री राहत कोष में 21 लाख रुपए दान किए हैं।

राज्यों के हाल

  • महाराष्ट्र: राज्य में 5 और संक्रमित मिले हैं। इनमें से 4 नागपुर में, 1 गोंदिया में पाया गया है। उधर, पुणे के स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख डॉ. राजेंद्र हुंकारे ने बताया कि शहर के नायडू अस्पताल में भर्ती किए गए दो और मरीजों की इलाज के बाद रिपोर्ट निगेटिव आई है। उनकी अस्पताल से छुट्‌टी कर दी गई है। नागपुर में फेक ऑडियो क्लिप सोशल मीडिया पर पोस्ट करने के आरोप में पुलिस ने 3 लोगों को गिरफ्तार किया। इस ऑडियों में शहर में कोरोना संक्रमितों की संख्या 59 बताई जा रही थी। राज्य के शिवसेना सांसदों ने अपना एक महीने का वेतन प्रधानमंत्री राहत कोष में दान देने का ऐलान किया है।
  • राजस्थान: भीलवाड़ा में संक्रमण तेजी से फैल रहा है। यहां कल जान गंवाने वाले व्यक्ति के परिवार के दो और सदस्य संक्रमित पाए गए हैं। इसके साथ ही राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या 45 हो गई है। इनमें से अकेले भीलवाड़ा में ही 21 मरीज हैं।
  • पंजाब: अमृतसर के डिप्टी कमिश्नर शिवदुलार सिंह ढिल्लन ने बताया कि यहां कोरोनावायरस संक्रमण के पहले मरीज की रिपोर्ट निगेटिव आई है। उन्हें गुरुनानक देव हॉस्पिटल के आईसोलेशन वार्ड में रखा गया था। वे हाल ही में इटली से लौटे थे।
  • छत्तीसगढ़: राज्य में गुरुवार तक काेराेना पॉजिटिव 6 केस आ चुके हैं। इनमें से 5 मामले बुधवार से गुरुवार के बीच सामने आए। इन मामलों में सबसे ज्यादा चौंकाने वाली जानकारी रायपुर और बिलासपुर से है। बिलासपुर में विदेश से लौटने के 40 दिन बाद महिला पॉजिटिव आई है। जबकि रायपुर में संक्रमित मिला बुजुर्ग कभी शहर से बाहर ही नहीं गया है। अब तक 4 शहर रायपुर, बिलासपुर, भिलाई और राजनांदगांव में संक्रमित पाए गए हैं।
  • उत्तरप्रदेश: गाजियाबाद में दूसरे प्रदेशों के दिहाड़ी मजदूरों का पलायन जारी है। राजस्थान के दौसा के ऐसे ही कुछ मजदूर अपने घरों के लिए पैदल ही निकल पड़े हैं। इनमें से एक रामलाल का कहना है, ‘‘यहां खाने का कोई इंतजाम नहीं है। हम यहां एक पार्क में रहते थे। हमें दौसा पहुंचने में तीन दिन लगेंगे।’’ उधर, दिल्ली स्थित उत्तरप्रदेश भवन में कोरोना कंट्रोल रूम बनाया गया। इसके नंबर 011-26110151, 26110152, 26110153, 26110154, 26110155 और 9313434088 हैं।
  • दिल्ली: मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि यहां कुल 39 संक्रमित हैं। इनमें से 29 लोग बाहर से आए थे और 10 लोगों में संक्रमण स्थानीय स्तर पर फैला। मुख्यमंत्री ने कहा कि हम हर दिन 20 हजार लोगों तक खाना पहुंचा रहे हैं। आज से यह संख्या बढ़कर 2 लाख हो जाएगी। वहीं, कल तक यह आंकड़ा 4 लाख हो जाएगा।
  • आंध्रप्रदेश: राज्य के परिवार कल्याण विभाग के मुताबिक, प्रदेश में एक और संक्रमित मिला है। वह 17 मार्च को बिटेन से लौटे एक व्यक्ति के संपर्क में आया था। राज्य में अब संक्रमितों की संख्या 12 हो गई है। कृष्णा जिले के म्यलावरम में क्वारैंटाइन नियमों का उल्लंघन करने पर दो एनआरआई के खिलाफ केस दर्ज किया गया। दोनों 14 मार्च को अमेरिका से लौटे थे। शुक्रवार को वे घर पर नहीं मिले।
  • बिहार: राज्य में दो और कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इनमें से एक सिवान का रहने वाला है, जो हाल ही में दुबई से लौटा था। दूसरा नालंदा का है वह भी विदेश से आया था। इसके साथ ही राज्य में संक्रमितों की संख्या 9 हो गई है।
  • केरल: कोल्लम के सब-कलेक्टर ने क्वारैंटाइन नियमों का उल्लंघन किया है। वे 19 मार्च को विदेश से लौटे थे, लेकिन क्वारैंटाइन किए जाने के बाद कानपुर चले गए। कलेक्टर का कहना है कि इस संबध में राज्य सरकार को चिट्‌ठी लिखी गई है।
  • तेलंगाना: राज्य में एक और कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। वह हाल ही में दिल्ली से लौटा था। उसकी हालत स्थिर है और उसे आइसोलेशन में रखा गया है। 27 मार्च सुबह 8 बजे तक राज्य में संक्रमितों की संख्या 45 हो गई।
  • अंडमान-निकोबार: इस केंद्र शासित प्रदेश में शुक्रवार को दूसरा कोरोना पॉजिटिव मिला। इससे पहले गुरुवार को यहां चेन्नई से लौटे एक व्यक्ति को संक्रमित पाया गया था।

जुमे की नमाज घरों में पढ़ी जा रही

संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए देशभर में लगाए गए लॉकडाउन में लोग सहयोग कर रहे हैं। मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की अपील के बाद लोग जुमे की नमाज घरों में ही पढ़ रहे हैं। मस्जिदों में सिर्फ पांच लोगों को नमाज की इजाजत दी गई है। लाउडस्पीकर पर अजान भी नहीं हो रही।

भारत की सार्क देशों से साझा इलेक्ट्रॉनिक प्लेटफॉर्म बनाने की पेशकश
सार्क देशों के स्वास्थ्य सेवा महानिदेशकों की गुरुवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग हुई। भारत की अध्यक्षता में हुए इस सम्मेलन में कोरोनावायरस के मुद्दों पर चर्चा हुई। इसमें भारत ने एक कॉमन इलेक्ट्रॉनिक प्लेटफॉर्म बनाने का प्रस्ताव रखा है। इस पर कोरोनावायरस से बचाव के लिए सूचना, जानकारी, विशेषज्ञता और एकजुट प्रयासों को साझा किया जा सकेगा। बताया कि इस प्लेटफॉर्म को बनाने का काफ काम पहले ही हो चुका है। भारत ने यह प्रस्ताव भी रखा कि जब तक इलेक्ट्रॉनिक प्लेटफॉर्म चालू नहीं होता, तब तक ईमेल/व्हॉट्सऐप पर रियल टाइम में सूचना साझा की जा सकती है।

श्रीनगर में ट्रेवल हिस्ट्री छिपाने पर 180 से ज्यादा क्वारैंटाइन किए गए
श्रीनगर में ट्रेवल हिस्ट्री छिपाने वाले 180 लोगों की पहचान की गई है। इन्हें पिछले हफ्ते श्रीनगर में क्वारैंटाइन सेंटर में भेज दिया गया। हालांकि, मीडिया में यह जानकारी शुक्रवार को आई। श्रीनगर के जिला प्रशासन ने ट्वीट किया- उम्मीद करें, इनमें से कोई भी पॉजिटिव न हो, क्योंकि जो हालात हैं उनमें स्पष्ट रूप से कुछ भी कहना मुश्किल है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।