सोलन: विद्यार्थी को लोहे की रॉड और लात-घूंसों से पीटा, चार आरोपी छात्रों को स्कूल से निकाला #news4
December 22nd, 2021 | Post by :- | 1226 Views

हिमाचल प्रदेश के सोलन जिले के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक स्कूल धुंधन के बाहर कुछ विद्यार्थियों ने एक निजी स्कूल के छात्र की निर्मम पिटाई कर डाली। सरकारी स्कूल के विद्यार्थियों ने 11वीं कक्षा में पढ़ने वाले निजी स्कूल के छात्र का रास्ता रोका और उसे लोह की रॉड से पीटा। साथ ही लात-घूंसों की बरसात कर दी। उधर, पुलिस ने मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। बच्चों के आपसी झगड़े का यह वीडियो वायरल होने के बाद 11वीं कक्षा के एक व 12वीं कक्षा के तीन विद्यार्थियों को स्कूल से निकाल दिया गया है। इसकी पुष्टि विद्यालय के प्रधानाचार्य सरताज सिंह राठौर ने की है। उन्होंने कहा कि इस तरह के उदंड विद्यार्थियों को अपने विद्यालय परिसर में बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं कर सकते।

ऐसे विद्यार्थियों को विद्यालय में रखकर विद्यालय का माहौल भी खराब हो सकता है। उन्होंने कहा कि वायरल वीडियो देख उनकी आंखें नम हो गईं, किस तरह से एक विद्यार्थी को अन्य विद्यार्थियों द्वारा पीटा जा रहा है। उन्होंने बताया कि बुधवार को विद्यालय स्टाफ व प्रबंधन कमेटी के बीच एक बैठक हुई । बैठक में विद्यार्थियों को निष्कासित करने का निर्णय लिया गया।  मंगलवार को गांव पहलेजेरी डाकघर धुंधन के एक लड़के ने पुलिस को लिखित शिकायत में बताया था कि वह एक प्राइवेट स्कूल में 11वीं कक्षा का विद्यार्थी है।

विद्यालय से छुट्टी होने के बाद जब वह स्कूल से घर की तरफ आ रहा था तो कुछ लड़कों ने इसका रास्ता रोका और इसके ऊपर लोहे की रॉड से टांगों और बाजू में मारा जिससे उसे चोटें आई हैं। साथ ही उसे जान से मारने की धमकी भी दी। इसी घटना से संबंधित बीती रात से सोशल मीडिया पर एक वीडियो जमकर वायरल हो रहा है, जिसमें एक छात्र को कई छात्रों द्वारा पीटा जा रहा है। वहीं, बुधवार को पुलिस ने घटनास्थल का दौरा किया, जहां मौजूद लोगों ने ऐसे विद्यार्थियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की। उधर मामले की पुष्टि करते हुए डीएसपी प्रताप सिंह ने बताया कि किशोर की शिकायत के आधार पर मामला दर्ज कर लिया है व आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।