मंडी में वृद्धावस्था पेंशन योजना में पात्र लोगों की शत प्रतिशत कवरेज को विशेष अभियान #news4
May 6th, 2022 | Post by :- | 107 Views
मंडी, 6 मई। मंडी जिले में वृद्धावस्था पेंशन योजना में पात्र लोगों की शत प्रतिशत कवरेज को विशेष अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान में मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर की घोषणा के मुताबिक 60 साल से ऊपर के सभी पात्र लाभार्थी कवर किए जाएंगे। उपायुक्त अरिंदम चौधरी ने इसे लेकर सभी संबंधित विभागों को सौ फीसदी कवरेज के लिए मिशन मोड पर काम करने को कहा है। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन का प्रयास है कि एक महीने में सभी पात्र लाभार्थी पेंशन योजना में कवर कर लिए जाएं, ताकि उन्हें जल्द से जल्द लाभ मिल सकंे।
बता दें, हिमाचल सरकार ने वृद्धावस्था पेंशन के लिए आयु सीमा 70 से घटाकर 60 वर्ष कर दी है। इसके लिए आय सीमा की शर्त भी नहीं है। इसमें ऐसे दंपति जो कोई सरकारी पेंशनधारी हों और वे लोग जो इनकम टैक्स प्रदाता हों, वे इस पेंशन के दायरे में नहीं आते।
उपायुक्त ने संबंधित विभागों को निर्देश दिए कि जिले में सभी पंचायती राज संस्थानों और शहरी निकायों में विशेष बैठकें आयोजित कर 60 साल से ऊपर के सभी पात्र लाभार्थियों की कवरेज का एजेंडा रखें। पात्र लोगों के फार्म भरवाने का काम करें। फार्म भरवा कर संबंधित तहसील कल्याण अधिकारी कार्यालय में सौंपें। उन्होंने निर्देश दिए कि पंचायती राज संस्थानों और शहरी निकायों के सभी जन प्रतिनिधि अपने अपने क्षेत्र में पात्र लोगों की सौ फीसदी कवरेज सुनिश्चित करें।
उन्होंने कहा कि 30 दिनों के बाद जिले में प्रत्येक पंचायत और शहरी निकाय से उनके वहां पात्र लोगों की शत प्रतिशत कवरेज होने के संबंध में सर्टिफिकेट भी लिए जाएंगे।
वहीं, जिला कल्याण अधिकारी मंडी आर.सी.बंसल ने बताया कि जिले में अब तक 60 साल से ऊपर के पात्र लाभार्थियों के 4050 पेंशन फार्म प्राप्त हुए हैं। जिले में विशेष अभियान के जरिए अगले एक महीने में शत प्रतिशत कवरेज का लक्ष्य रखा गया है।
आर.सी.बंसल ले बताया कि पिछले 4 वर्षों में मंडी जिले में अलग अलग श्रेणियों में सामाजिक सुरक्षा पेंशन के कुल 44 हजार 342 नए मामले स्वीकृत किए गए हैं। जिले में वर्तमान में 1 लाख 13 हजार 404 लोगों को सामाजिक सुरक्षा पेंशन दी जा रही है। पिछले चार सालों में मंडी जिले में सामाजिक सुरक्षा पेंशन देने को करीब 500 करोड़ रुपये खर्चे गए हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।