ऊना में दिखी सम्पूर्ण हिमाचल की तस्वीर, राज्य स्तरीय युवा उत्सव का हुआ शुभारंभ #news4
December 24th, 2021 | Post by :- | 113 Views

ऊना : जिला मुख्यालय के इंदिरा गांधी खेल परिसर में आज राज्य स्तरीय युवा महोत्सव का शुभारंभ किया गया। 37 वें राज्य स्तरीय युवा उत्सव का आगाज हिमाचल प्रदेश के कृषि मंत्री वीरेंद्र कंवर ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत करते हुए किया। इस दौरान कार्यक्रम स्थल पर संपूर्ण हिमाचल की एक तस्वीर देखने का सैकड़ों लोगों को अवसर मिला, जब विभिन्न जिलों से आए 512 प्रतिभागियों ने पारंपरिक वेशभूषा में अपने-अपने जिला की संस्कृति की छवि प्रस्तुत की। कार्यक्रम के दौरान पारंपरिक वाद्य यंत्रों के साथ प्रदेशभर से आए लोक कलाकारों ने हिमाचली संस्कृति और परंपराओं का मंच से प्रदर्शन किया। तीन दिन तक चलने वाले राज्य स्तरीय युवा उत्सव के दौरान हिमाचल प्रदेश के सभी कलाकारों के बीच विभिन्न प्रतियोगिताएं आयोजित की जाएंगी। 26 दिसंबर को प्रतियोगिता के समापन अवसर पर हिमाचल प्रदेश के युवा सेवाएं एवं खेल मंत्री राकेश पठानिया बतौर मुख्य अतिथि शिरकत करते हुए विजेताओं को सम्मानित करेंगे।

जिला मुख्यालय के इंदिरा गांधी परिसर में शुक्रवार को 37वें तीन दिवसीय राज्य स्तरीय युवा महोत्सव का शुभारंभ किया गया। इस मौके पर हिमाचल प्रदेश के कृषि मंत्री वीरेंद्र कंवर ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत करते हुए कार्यक्रम का आगाज किया। राज्य स्तरीय युवा उत्सव में प्रदेश भर से करीब 512 लोक कलाकार पारंपरिक वाद्य यंत्रों के साथ लोक कला की प्रस्तुतियां देंगे। प्रतियोगिता के पहले दिन विभिन्न जिलों से आये कलाकारों ने अपनी प्रस्तुतियों से दर्शकों को झूमने पर मजबूर कर दिया। इस मौके पर बतौर मुख्य अतिथि पधारे कृषि मंत्री वीरेंद्र कुमार ने कहा कि राज्य स्तरीय युवा उत्सव संपूर्ण हिमाचल की एक तस्वीर देखने को मिली है। इस प्रकार के कार्यक्रमों का आयोजन का उद्देश्य अपनी संस्कृति और परंपराओं को सहेजने के साथ-साथ युवा पीढ़ी तक पहुंचाने का भी है। उन्होंने कहा कि हिमाचल की संस्कृति, सभ्यता और परंपराएं काफी समृद्ध है। प्रदेश के लिए यह गर्व की बात है कि आज भी हमारे युवा अपनी संस्कृति को सहेजे हुए हैं। वीरेंद्र कंवर ने युवा उत्सव में भाग लेने के लिए प्रदेश भर के सैकड़ों प्रतिभागियों को शुभकामनाएं भी दी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।