एचपीयू शिमला: 90 दिन में परिणाम निकालने का दावा, चार महीने से इंतजार कर रहे विद्यार्थी #news4
January 11th, 2022 | Post by :- | 122 Views

कोरोना के कारण गड़बड़ाए एचपीयू शिमला के कक्षाओं और परीक्षाओं के शेड्यूल का सीधा असर विद्यार्थियों के भविष्य पर पड़ रहा है। सितंबर माह में समाप्त हो चुकी एलएलबी की परीक्षाओं के बाद से अब तक विधि कोर्स के छात्र अपने परीक्षा परिणाम का इंतजार कर रहे हैं। परिणाम घोषित न होने के कारण इन विद्यार्थियों की एलएलएम में प्रवेश की प्रक्रिया भी अटकी हुई है। वहीं, जिनकी डिग्री पूरी हो चुकी है, वे बार काउंसिल ऑफ इंडिया से दिए जाने वाले लाइसेंस को भी पिछला परिणाम न आने के कारण नहीं ले पा रहे हैं। विधि विभाग के विद्यार्थियों का कहना है कि चार माह बीत जाने पर भी विवि प्रशासन एलएलबी अंतिम वर्ष का अब तक परीक्षा परिणाम घोषित नहीं कर पाया है। विवि 90 दिनों में परीक्षा परिणाम घोषित करने के दावे करता है।

अभिभावक डॉ. अनिल ठाकुर का कहना है कि परिणाम घोषित करने में हो रही देरी से विद्यार्थी एलएलएम के कोर्स में प्रवेश नहीं ले पा रहे हैं। बार काउंसिल ऑफ इंडिया से डिग्री पूरी किए जाने पर मिलने वाले लाइसेंस भी नहीं मिल पा रहे हैं।  उनका कहना है कि पहले विवि मई जून में होने वाली एलएलबी की परीक्षाएं देरी से करर्वाइं। अब चार माह बीत जाने पर परिणाम ही घोषित नहीं हो रहा है। उनका आरोप है कि परिणाम को लेकर विवि में कॉल करने पर कोई जवाब तक नहीं मिल रहा है। उन्होंने कहा कि विवि के इस सुस्त रवैये से छात्रों के एक डिग्री पूरी करने में चार साल लग रहे हैं। विवि प्रशासन से एलएलबी अंतिम सेमेस्टर के छात्रों के परिणाम जल्द घोषित करने की मांग की है। उधर, विवि के परीक्षा नियंत्रक डॉ. जेएस नेगी का कहना है कि एलएलबी की उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। अवार्ड एंट्री की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। जल्द ही एलएलबी का परिणाम घोषित कर दिया जाएगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।