पीजी कॉलेज में 20 से ज्यादा लड़कियों की अचानक बिगड़ी तबीयत, धर्मशाला अस्पताल में भर्ती #news4
February 16th, 2022 | Post by :- | 286 Views

धर्मशाला : धर्मशाला के पीजी कॉलेज में उस वक्त अफरा-तफरी का माहौल हो गया जब एक साथ 20 से ज्यादा लड़कियों को उल्टियां और दस्त शुरू हो गए। एक साथ तमाम लड़कियों की हालत बिगड़ते देख गर्ल्ज होस्टल की वार्डन ने तुरंत स्थिति को भांपते हुए 108 नंबर पर फोन किया और सभी लड़कियों को धर्मशाला के क्षेत्रीय अस्पताल भेजना शुरू कर दिया। फिलहाल सभी लड़कियों को धर्मशाला के क्षेत्रीय अस्पताल में भर्ती किया गया है, जहां उन्हें ग्लूकोज चढ़ाया जा रहा है। हालांकि एक साथ दर्जन भर से ज्यादा लड़कियों को उल्टी और दस्त की शिकायत कैसे हुई अब ये जांच का विषय बन चुका है, मगर चिकित्सकों की मानें तो ये पहली नजर में तो फूड प्वाइजनिंग या कोई जलजनित रोग संबंधी लक्षण ही प्रतीत हो रहे हैं क्योंकि जब खराब खाना या जल पिया जाता है तभी उल्टियां-दस्त और हाईग्रेड फीवर होता है मगर इस केस में किसी भी लड़की को हाईग्रेड फीवर नहीं है हां उनमें वीकनैस जरूर देखी जा रही है।

ये कहना जल्दबाजी होगी कि छात्राएं किसी जलजनित रोग की चपेट में आई हैं या उन्हें खराब खाना खाने की वजह से उल्टियां और दस्त शुरू हुए हैं, मगर इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता कि अमूमन इस तरह के मामले या तो जलजनित बीमारियों से ही संबंधित होते हैं या फिर खराब खाना खाने की वजह से ये रोग सामने आता है। चिकित्सकों की मानों तो फिलहाल तमाम छात्राएं खतरे से बाहर हैं और उनकी ओर से जिला प्रशासनिक अधिकारियों और जिला स्वास्थ्य अधिकारी को भी सूचित कर दिया गया है ताकि जिस होस्टल में इस तरह का वाकया सामने आया है वहां के खाने और पानी की सैंपलिंग की जा सके और आगामी कार्रवाई अमल में लाई जा सके।

वहीं होस्टल वार्डन ने कहा कि बीती शाम को ही अचनानक ये मामला सामने आया था, जिस पर तुरंत संज्ञान लेते हुए अपने वरिष्ठ अधिकारियों को सूचित करते हुए छात्राओं को पहले अस्पताल भिजवाने का काम किया। उन्होंने कहा कि फिलहाल तमाम छात्राएं खतरे से बाहर हैं उन्हें कमजोरी होने की वजह से ग्लूकोज दिया जा रहा है। वहीं छात्राओं ने बताया कि उन्हें बीती शाम और आज सुबह पेट में जलन और उल्टियों की शिकायत हुई थी। छात्रा दीक्षा, पूर्णिमा और वैशाली ने बताया कि सभी छात्राओं ने बीते कल होस्टल में ही खाना खाया था और सभी अचानक से उल्टी-दस्त की शिकार हो गईं। हालांकि अभी बहुत सी छात्राएं स्वस्थ भी हो गई हैं और उन्हें अस्पताल में हलके उपचार के बाद वापस होस्टल जाने के लिए भी कह दिया है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।