समाजसेवा में सुजानपुर का शानदार प्रदर्शन प्रदेश के लिए बना उदाहरण : राजेंद्र राणा #news4
May 27th, 2022 | Post by :- | 43 Views

सुजानपुर  : समाजसेवा सबसे पुनीत कार्य है और इस काम में यथाशक्ति समाज के हर अंग का भाग लेना जरूरी है। यह बात प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष एवं विधायक राजेंद्र राणा ने यहां जारी प्रैस बयान में कही है। राजेंद्र राणा ग्राम पंचायत बनाल के महिला मंडल समारोह में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि परिवार प्रबंधन हो या पार्टी प्रबंधन समाज व समाज सेवकों के सहयोग से अनंतकाल से चला आ रहा है। इसी परिपाटी को निरंतर जारी रखने के लिए सुजानपुर में सैंकड़ों की संख्या में महिला मंडल, युवक मंडल व स्वयं सहायता समूहों के साथ अब एक्स सर्विसमैन विंग भी समाजसेवा का बेहतर उदाहरण बन रहे हैं। शायद यही कारण है कि समाजसेवा के इस जज्बे को अब प्रदेश भर के सियासी लोग अपना रहे हैं। सुजानपुर से सर्वकल्याणकारी संस्था के बैनर तले शुरू हुआ यह मिशन अब प्रदेशभर में अपने-अपने ढंग से चल रहा है।

राणा ने कहा कि सुजानपुर में 28 मई को शुरू होने वाला राष्ट्र रक्षा यज्ञ भी इसी समाजसेवा के विचार से निकल कर आया है, जिसको लेकर अब दैवीय शक्तियों का आह्वान करने के लिए सर्वकल्याणकारी संस्था ने ऐसे हवन-यज्ञों की शुरूआत सुजानपुर से करने की ठानी है। इस अवसर पर राजेंद्र राणा ने 10 महिला मंडलों को 12-12 हजार रुपए व एक-एक टैंट देकर सम्मानित व प्रोत्साहित किया। इनमें ग्राम पंचायत झनियारा के 4, ग्राम पंचायत कोट के 5 व ग्राम पंचायत बनाल के 4 महिला मंडल शामिल रहे। इस मौके पर राजेंद्र राणा ने घड़थोली में महिला मंडल के भवन की मुरम्मत के लिए 75 हजार रुपए देने की घोषणा भी की।

राणा ने कहा कि कोरोना जैसी आपदा के बीच भी सत्ता संरक्षित भ्रष्टाचार लगातार देश और प्रदेश में चला रहा जोकि यह बताने के लिए काफी है जहां यह महामारी आम आदमी के लिए आपदा लेकर आई थी, वहीं इस आपदा को सत्ता के कुछ दलालों ने अवसर बनाया और उसका खूब फायदा उठाया। उन्होंने कहा कि अब वक्त आ चुका है कि अगर सब बीमारियों व महामारियों से निजात पानी है तो जनता को बीजेपी की विदाई के लिए बढ़-चढ़ कर आगे आना होगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।