संक्रांति पर सूर्य अर्घ्य से मिलते हैं हेल्थ बेनिफिट्स, तिल, नमक, चावल और शकर सहित 10 चीजें करें दान #news4
December 29th, 2022 | Post by :- | 46 Views
Makar Sankranti 2023: सूर्य के मकर में प्रवेश को मकर संक्रांति कहते हैं। 14 जनवरी को सूर्य रात्रि 8 बजकर 56 मिनट पर प्रवेश करेगा। इस मान से 15 जनवरी को मकर संक्रांति का त्योहार मनाया जाएगा। मकर संक्रांति को ही लोहड़ी, माघी, भोगी पण्डिगाई, पोंगल, पेड्डा पाण्डुगा, उत्तरायण, माघ बिहु, मट्टू पोंगल, कनुमा पाण्डुगा, कानुम पोंगल, मुक्कानुमा नाम से अलग अलग राज्यों में मनाया जाता है। यह संपूर्ण देश और धर्म का त्योहार है।
सूर्य को अर्घ्‍य देना | Surya ko arghya dena ke fayde : मकर संक्रांति को सूर्य को अर्घ्‍य देने से कई तरह के लाभ मिलते हैं। एक तांबे के लोटे में जल भरकर उसमें लाल चंदन, रोली, लाल कनेर के पुष्प, अक्षत और गुड़ डालकर अर्घ्य देने से सूर्यदेव की विशेष कृपा प्राप्त होती है तथा कार्य करने के प्रति आत्मविश्वास जागृत होता है। सूर्य पिता का कारक है और जिस तरह पिता के होने से व्यक्ति में आत्मविश्वास होता है उसी तरह सूर्य की शीतल रश्मियां जल के साथ जब ह्रदयस्थल पर पड़ती है तो दिल मजबूत होता है और आत्मविश्वास बढ़ता है। यह हर तरह की सेहत प्रदान करता है।
मकर संक्रांति का दान | Makar sankranti ka daan:
1. तिल : इस दिन तिल का दान करना शुभ होता है। यह शनि का उपाय है।
2. गुड़ : इस दिन गुड़ का दान करना शुभ होता है। यह सूर्य का उपाय है। इस दिन रेवड़ी का भी दान करने से सूर्य के साथ मंगल का उपाय होता है।
3. खिचड़ी : इस दिन खिचड़ी का दान करना शुभ होता है।
4. कंबल : इस दिन कंबल का दान करना शुभ होता है। यह राहु और शनि का उपाय है।
5. नमक : इस दिन नमक का नया पैकेट लेकर उसका दान करें। यह शुक्र का उपाय है।
6. चावल : चावल का दान करने से चंद्र के साथ ही शुक्र का फल भी मिलता है। माता और पत्नि की सेहत अच्छी बनी रहती है।
7. शक्कर : चीटियों को शक्कर खिलाने से या शक्कर का दान करने से शनि और शुक्र से संबंधित दोष समाप्त होते हैं।
8. चारा : इस दिन गाय को हरा चारा खिला शुभ होता है। यह बुध और शुक्र का उपाय है।
9. घी : इस दिन घी का दान करने से करियर में सफलता मिलती है और मोक्ष की प्राप्ति होती है। यह शुक्र का उपाय है।
10. सीधा : इस दिन किसी पुजारी को गुड़, आटा, घी, नमक, शक्कर आदि सामान दान करना शुभ होता है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।