आपदा प्रबंधन को लेकर अपने दायित्वों को गंभीरता से लें: आशुतोष गर्ग
July 11th, 2019 | Post by :- | 132 Views

मंडी, 11 जुलाई: अतिरिक्त उपायुक्त आशुतोष गर्ग ने आपदा के बेहतर प्रबंधन के लिए सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों से अपने दायित्वों को गंभीरता से लेने को कहा है। उन्होंने कहा जिला प्रशासन भूकंप संबंधी आपदा को लेकर किए गए मैगा मॉक अभ्यास के दौरान सामने आई कमियों को ठीक करेगा, ताकि किसी भी आपात स्थिति से बेहतर तरीके से निपटा जा सके।

उन्होंने आम नागरिकों से भी आपदा प्रबंधन के महत्व को समझने और सुरक्षा को लेकर सजग रहने की अपील की । इसे लेकर लोगों को जागरूक करने के लिए इस प्रकार के मैगा मॉक अभ्यास की जरूरत पर बल दिया।
उन्होंने कहा इस अभ्यास का मुख्य उद्देश्य भूकंप जैसी किसी आपदा के समय बेहतर प्रबंधन के लिए प्रशासन की तैयारियों एवं क्षमता का आकलन करना और प्रबंधों एवं व्यवस्था में कमियों का पता लगाकर विश्लेषण एवं सुधार करना था। अभ्यास के दौरान आपदा से निपटने की तैयारी, योजना के अनुरूप कार्य करने, आपसी समन्वय, सूचना एवं संचार माध्यमों के प्रयोग, प्रतिक्रिया, बचाव और राहत जैसे आपदा प्रबंधन के सभी चरणों को गंभीरता से पूरा किया गया और इस दौरान सामने आई कमियों को भी नोट किया गया।
राहत बचाव दलों के साथ सेना, राष्ट्रीय आपदा प्राधिकरण और राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल के पर्यवेक्षक भी तैनात किए गए थे, जिन्होंने अभ्यास के दौरान गतिविधियों को लेकर अपनी आब्जर्वेशन बताईं। प्रशासन ध्यान में आई सभी कमियों को दुरूस्त करेगा।

आपदा मित्रों और सर्व के स्वयंसेवियों की ली मदद

उन्होंने बताया कि मंडी जिले में 200 लोगों को आपदा से जुड़े राहत बचाव कार्यों को लेकर प्रशिक्षित किया गया है। इन्हें जिले में आपदा की स्थिति में गोताखोरी और इस प्रकार के अन्य अभियानों के लिए तैयार किया गया है। इनकी भी मॉक अभ्यास में मदद ली गई। इसके अलावा सर्व संस्था के स्वयंसेवियों की सहायता भी आपदा प्रबंधन में ली गयी। ये सभी प्रशिक्षित स्वयंसेवी हैं और जिलेभर में इनका मजबूत नेटवर्क है।
इस मौके पुलिस अधीक्षक गुरदेव शर्मा, अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी श्रवण मांटा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पुनीत रघु, एसडीएम सदर सनि शर्मा, सेना के प्रतिनिधि कर्नल एन.के शर्मा, एनडीआरएफ के सहायक सेनानी श्रवणजीत सिंह सहित सभी विभागों के अधिकारी एवं संबंधित कर्मचारी उपस्थित रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।