अष्टमी पर कंजक पूजन, नवमी के लिए सजे मंदिर #news4
April 9th, 2022 | Post by :- | 99 Views

शिमला : राजधानी शिमला के मंदिरों में शनिवार को अष्टमी पर्व पर कंजक पूजन किया गया। शहर के सभी मंदिरों में लोग कंजकों को पूजते और उन्हें भोग खिलाते देखे गए। दिनभर मंदिरों में श्रद्धालुओं का आना-जाना लगा रहा। घरों में भी कंजक पूजन हुआ। वहीं, नवमी के लिए शहर के मंदिर सज गए हैं।

शिमला का कालीबाड़ी मंदिर शनिवार को श्रद्धालुओं से भरा दिखा। स्थानीय लोगों के साथ कालीबाड़ी मंदिर में सैलानी भी भारी संख्या में पहुंचे। शिमला में दो साल बाद मंदिरों में इतनी भीड़ दिखी। लोग अपने छोटे बच्चों के साथ मां के दर्शन के लिए पहुंचे थे। कोरोना काल के बाद स्थितियों में आए सुधार को देखते हुए प्रशासन ने अब सभी तरह की बंदिशें हटा दी हैं। इससे हर जगह भीड़ जुटनी शुरू हो गई है। मंदिरों में भंडारों का आयोजन व प्रसाद मिलना भी शुरू हो गया है। दो साल बाद मंदिरों में भंडारे लगे व प्रसाद बंटा। शिमला में तारादेवी मंदिर, संकटमोचन, कालीबाड़ी, ढींगू माता और बीसीएस के तारा माता मंदिर में भी खूब भीड़ रही। भक्तों को मां के दर्शन के लिए लाइन में लगकर काफी देर इंतजार करना पड़ा। वहीं, रविवार को नवमी पर्व के लिए शिमला स्थित राममंदिर व संकटमोचन में विशेष साज-सज्जा की गई हैं। राम दरबार को रंगबिरंगे फूलों और लड़ियों से सजाया गया है। सुबह सात बजे से दोपहर डेढ़ बजे तक विशेष मुहूर्त

स्थानीय पंडित प्रयागराज शर्मा ने बताया कि नवमी का विशेष मुहूर्त सुबह सात बजे से दोपहर डेढ़ बजे तक होगा। इस बार नवमी पर लोग अगर दान करना चाहते हैं तो वे कर सकते हैं। इसके अलावा नवमी के दिन इस बार खास मुहूर्त है जिसे अनपुछ मुहूर्त कहा जाता है। यह मुहूर्त सिर्फ इस बार ही नवमी के अवसर पर आया है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।