एग्जामिनेशन हॉल के बाहर लगे सीसीटीवी की फुटेज नहीं मिली, हाईकोर्ट ने जवाब मांगा
March 27th, 2019 | Post by :- | 220 Views

चंडीगढ़ ललित कुमार 12वीं के इंग्लिश के पेपर में देरी से पहुंचने के अपने दावे के पक्ष में स्कूल एग्जामिनेशन हॉल के बाहर लगे सीसीटीवी की फुटेज हाईकोर्ट में देकर फिलहाल अपना पक्ष साबित नहीं कर पाया। सुबह 9.47 से लेकर 10.26 तक के समय की सीसीटीवी फुटेज मिसिंग पाई गई। हाईकोर्ट ने इस पर अब स्कूल से मामले पर जवाब तलब किया है।

हाईकोर्ट ने इससे पहले बठिंडा के डीईओ (सेकेंडरी) को मॉडल टाउन फेज तीन स्थित सेंट जेवियर सीनियर सेकेंडरी स्कूल के एग्जामिनेशन हॉल के बाहर लगे सीसीटीवी की फुटेज कोर्ट में पेश करने के निर्देश दिए थे। मानसा निवासी दीपांशु बंसल की तरफ से याचिका दायर कर कहा गया कि दो मार्च को उनका 12वीं क्लास का इंग्लिश का पेपर था।

वह एग्जामिनेशन सेंटर पर सुबह 10.03 मिनट पर पहुंचे तो उन्हें अंदर दाखिल नहीं होने दिया गया। स्कूल के प्रिंसीपल कम सेंटर सुपरिटेंडेंट ने देरी का हवाला देते हुए एग्जामिनेशन सेंटर में नहीं जाने दिया। इसका नतीजा यह रहा है कि उनका एजुकेशनल कैरियर का पूरा एक साल बर्बाद हो गया। नीट के रिजल्ट के बाद उन्हें एमबीबीएस कोर्स में दाखिला लेना था।

ऐसे में अब वह कंपार्टमेंट परीक्षा भी देते हैं तो आगे काउंसलिंग नहीं हो पाएगी। याचिका में कहा गया कि दो अन्य छात्रों को भी देरी से पहुंचने का हवाला देकर परीक्षा में नहीं बैठने दिया गया। याचिका में मांग की गई कि उनके लिए सीबीएसई इंग्लिश का स्पेशल पेपर लेने की व्यवस्था करे। साथ ही एक साल बर्बाद करने के चलते दस लाख रुपये का मुआवजा दे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।