अमिता की मौत पर हंगामा: साढ़े तीन घंटे बंद रखा
October 11th, 2019 | Post by :- | 165 Views

हमीरपुर। पक्का भरोह में एक निजी अस्पताल में रसौली के ऑपरेशन के दौरान 38 वर्षीय महिला की मौत मामले में गुस्साए परिजनों ने शिमला-धर्मशाला एनएच साढ़े तीन घंटे बंद रखा। परिजनों ने शव को बीच सड़क पर रख कर नारेबाजी की। परिजन सीएम जयराम से बात करने की मांग कर रहे थे लेकिन जाम को देखते हुए धर्मशाला आ रहे सीएम जयराम के काफिले को वाया अणु- सुजानपुर डायवर्ट कर दिया गया।
एडीसी रतन गौतम, एएसपी विजय सकलानी मौके पर पहुंचे और लोगों को मामले में उचित कारवाई का आश्वासन देकर मार्ग खुलवाया। परिजनों का आरोप है कि महिला की मौत डॉक्टरों की लापरवाही के कारण हुई है।
गुस्साए परिजनों ने इससे पहले रात को भी अस्पताल के बाहर जमकर हंगामा किया था। जानकारी के अनुसार निजी अस्पताल में बीती रात एक महिला का रसौली का ऑपरेशन हुआ। इस दौरान महिला की मौत हो गई। महिला 39 वर्षीय अमिता कुमारी पत्नी अरुण शर्मा निवासी गांव बराहलड़ी तहसील और जिला हमीरपुर की रहने वाली है और उसकी एक 4 वर्षीय बेटी है। अमिता राजकीय प्राथमिक पाठशाला डुढाणा में टीचर थी।
महिला के परिजनों का कहना है कि उसकी मौत डॉक्टरों की लापरवाही की वजह से हुई है। वहीं डॉक्टरों का कहना है कि महिला की मौत हार्ट अटैक के कारण हुई है। बताया जा रहा है कि इससे पहले एक और महिला की भी इस अस्पताल में रसौली के ऑपरेशन के दौरान मौत हुई है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।