संदिग्ध परिस्थितियों में हुई थी ट्रक चालक की मौत, गिरफ्तारी न होने पर स्वजन ने किया चक्काजाम
January 14th, 2023 | Post by :- | 59 Views

बिलासपुर: मंगलवार देर रात शिमला-मटौर राष्ट्रीय राजमार्ग पर मार्कंड सड़क के पास संदिग्ध परिस्थितियों में हुई ट्रक चालक की मौत के मामले नया मोड़ आ गया है। मृतक ट्रक चालक अंकेश धीमान के स्वनज ने इसे सुनियोजित तरीके से की गई हत्या करार दिया है।

स्वजन ने उपायुक्त कार्यालय के बाहर पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। उन्होंने चेतावनी दी कि यदि कथित हत्यारों को गिरफ्तार न किया तो चक्का जाम किया जाएगा और इस दौरान कानून व्यवस्था बिगड़ने की जिम्मेदारी जिला प्रशासन की होगी। वहीं देर सायं पुलिस ने मामले में हत्या का मामला दर्ज कर लिया है।

पत्नी ने लगाए साजिशन हत्या के आरोप

मृतक अंकेश धीमान के स्वजन ने उपायुक्त बिलासपुर को श्रीनयनादेवी के विधायक रणधीर शर्मा की मौजूदगी में एक ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में मृतक के पिता नरोत्तम दत्त, माता फूलां देवी व पत्नी मोनिका ने कहा कि अंकेश की सुनियोजित तरीके से कथित तौर पर हत्या की गई है और इसे दुर्घटना का रूप देने का प्रयास किया जा रहा है।

जिस जगह पर अंकेश गिरा था, वहां पर सूखी घास नहीं थी जबकि उसके सिर और शरीर के अन्य हिस्सों में सूखी घास पाई गई है। इससे स्पष्ट हो रहा है कि उसकी कहीं और हत्या की गई और बाद में शव वहां पर लाकर रखा गया। उपायुक्त ने मामले की नाजुकता को समझते हुए एसपी बिलासपुर को भी अपने कार्यालय में बुला लिया।

स्वजन ने पुलिस को संदिग्धों के बताए नाम

स्वजन ने कहा कि अंकेश के साथ गया व्यक्ति कथित तौर अपने बयान बदल रहा है। उन्होंने पुलिस प्रशासन से संबंधित व्यक्ति से कड़ाई से पूछताछ करने की मांग की। कुछ लोगों पर अंकेश की हत्या करने का आरोप लगाया तथा बताया कि 2019 में भी उनके परिवार पर जानलेवा हमला हो चुका है।

अंकेश के सिर के पीछे तथा टांग के निचले हिस्से में काफी गहरा घाव पाया गया था तथा मौके पर खून भी नहीं मिला। इसके अतिरिक्त उसकी आंखों के नीचे भी कुछ निशान थे। इससे यह दुर्घटना नहीं लग रही है।

संदिग्धों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की मांग

स्वजन ने पुलिस से संदिग्धों के विरुद्ध सख्त कानूनी कार्रवाई किए जाने की मांग की। वहीं, विधायक रणधीर शर्मा ने कहा कि पुलिस स्वजन के बयान दर्ज करके मामले की छानबीन करे। इस अवसर पर ग्राम पंचायत जुखाला के प्रधान जगदीश ठाकुर, उपप्रधान सोनू ठाकुर सहित कई ग्रामीण मौजूद रहे।

बिलासपुर एसपी, पुलिस दिवाकर शर्मा ने कहा कि मामले की जांच कर रही है लेकिन संदिग्धों के नाम अभी सामने नहीं आए हैं। घटना स्थल से फोरेंसिक टीम ने भी साक्ष्य इकट्ठे किए हैं। उन्होंने सदर थाना प्रभारी को निर्देश दिए कि वह स्वनज के बयान दर्ज करें और संदिग्धों को थाना में बुलाकर कड़ाई से पूछताछ करें। साथ ही पुलिस अब हत्या का मामला दर्ज कर जांच कर रही है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।