समय पर एंबुलेंस न मिलने से टांडा से पीजीआइ रेफर महिला की मौत, सारी रात इंतजार करता रहा परिवार
April 1st, 2020 | Post by :- | 260 Views

लॉकडाउन व कफ्यरू के बीच आपातकालीन सेवाएं मिलने में भी देरी हो रही है जिस कारण मरीजों की परेशानियां बढ़ गई हैं। एक ऐसे ही मामले में एंबुलेंस सुविधा देरी से मिलने के कारण एक मरीज की जान चली गई। महिला को टांडा अस्पताल से पीजीआइ चंडीगढ़ रेफर किया गया लेकिन समय पर एंबुलेंस सुविधा नहीं मिली। महिला ने चंडीगढ़ पहुंचने से पहले ही दम तोड़ दिया।

मारंडा पंचायत की 48 वर्षीय रजनी अरोड़ा की सोमवार शाम को अचानक तबीयत खराब हो गई। स्वजनों ने बड़ी मुश्किल से उसे सिविल अस्पताल पालमपुर पहुंचाया। गंभीर हालत होने पर डॉक्टरों ने टांडा अस्पताल रेफर कर दिया। एंबुलेंस में डालकर महिला को टांडा पहुंचाया गया। डॉक्टरों ने महिला की जांच की। हालत गंभीर होने पर उसे पीजीआइ चंडीगढ़ रेफर कर दिया लेकिन चंडीगढ़ जाने के लिए एंबुलेंस सुविधा नहीं मिली।

महिला सारी रात टांडा अस्पताल में ही रही। स्वजनों ने सुबह करीब साढ़े पांच बजे किसी तरह अपने स्तर पर एंबुलेंस का इंतजाम किया और महिला को लेकर चंडीगढ़ के लिए रवाना हुए लेकिन महिला ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। स्वजनों में अस्पताल प्रशासन के खिलाफ रोष है। उधर मंगलवार को ही महिला का अंतिम संस्कार कर दिया गया।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।