शरारती तत्वों द्वारा लगाई गई आग ने मचाया तांडव, नींबू का बगीचा व यूकेलिप्टस (सफेदा) के 200 पौधे चढ़े आग की भेंट।
May 30th, 2019 | Post by :- | 160 Views

राजस्व विभाग इंदौरा के अंतर्गत सुरड़वां गांव में शरारती तत्वों द्वारा लगाई गई आग से लगभग 2400 मरला भूमि प्रभावित हुई। जिसमें यूकेलिप्टस (सफेदा) के 200 पौधे व नींबू का बगीचा आग की भेंट चढ़ गया। जिससे मालिकों को लाखों रुपये का नुकसान हुआ है। वहीं खेत में चरने के लिए बांधी गई एक गाय भी आंशिक रूप से जल गई, जिसका उपचार चल रहा है। गांव वासियों के अनुसार तो किसी शरारती तत्व द्वारा ही आग लगाई गई, जो बाद में फैल गई। जानकारी के अनुसार उक्त आगजनी से पूर्व विधायक दुर्गा दास के बेटे सतपाल की सुरड़वां स्थित मिझली बंड में नींबू के बगीचे में लगभग 35 फलदार पौधे स्वाह हो गए तो वहीं जसवंत सिंह पुत्र मंगत सिंह निवासी वार्ड नंबर 4, गांव सुरड़वां के 200 पौधे यूकेलिप्टस व लगभग 55 फलदार नींबू के पौधे आग की भेंट चढ़ गए तथा एक गाय भी आंशिक रूप से जल गई।

आग लगने बारे जब मालिकों को सूचना मिली तब तक आग भयानक रूप धारण कर चुकी थी लेकिन गाँव वासियों ने कड़ी मशक्कत कर बाल्टियों आदि से पानी लाकर व ट्रैक्टर से हल आदि चलाकर आग को और ज्यादा फैलने से बचाया। लेकिन तब तक काफी नुकसान हो चुका था। गनीमत यह रही कि उस समय हवा आदि नहीं चली अन्यथा आग का रुख गांव की तरफ होता तो जानमाल का भी नुकसान हो सकता था। क्योंकि आग गाँव की तरफ ही बढ़ रही थी और वहाँ स्थित मुर्गी पालन केंद्र के पास पहुंच चुकी थी, जिस पर काबू पा लिया गया। पीड़ितों व गांववासियों ने सरकार व संबंधित विभाग से नुकसान का आकलन कर उचित मुआवजा दिए जाने की मांग करने के साथ-साथ इंदौरा में अग्निशमन सेवा उपलब्ध करवाने की माँग की है। संबंधित पटवारवृत के पटवारी को मौका पर भेजकर आकलन करने के लिए भेजा जाएगा और जो भी नुकसान की रिपोर्ट आएगी, नियमानुसार पीड़ितों को मुआवजा दे दिया जाएगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।