प्रथम विजेता टीम को 1,11, 111 रुपए तथा उपविजेता को 55,555 रूपए नगद इनाम व ट्रॉफी देकर मुख्य अतिथि द्वारा किया गया सम्मानित। … #news4
May 1st, 2022 | Post by :- | 116 Views

तीर्थन घाटी के भिंडी थाच में आयोजित शहीद लगन चन्द मेमोरियल कप क्रिकेट प्रतियोगिता का सफल समापन।

8900 फुट की ऊंचाई पर हुआ क्रिकेट का अनोखा आयोजन, जिला परिषद अध्यक्ष पंकज परमार ने बतौर मुख्य अतिथि की शिरकत।

रोमांचक फाइनल मैच में एके-47 खनी खण्ड आनी की टीम बनी विजेता, चैहनी वॉरियर्स की टीम रही उपविजेता।

प्रथम विजेता टीम को 1,11, 111 रुपए तथा उपविजेता को 55,555 रूपए नगद इनाम व ट्रॉफी देकर मुख्य अतिथि द्वारा किया गया सम्मानित।

तीर्थन घाटी गुशैनी बंजार (परस राम भारती):- जिला कुल्लू उपमंडल बंजार में तीर्थन घाटी की दूर दराज ग्राम पंचायत शिल्ली के सैनिक लगन चन्द ने गत वर्ष राजस्थान के बीकानेर में अपने कर्तव्य का निर्वहन करते हुए शाहदत पाई थी।ग्राम पंचायत शिल्ही में गरूली गांव के शहीद सैनिक लगन चंद की याद में स्थानीय ग्राम पंचायत और गांव गरुली व परवाड़ी के युवक मण्डलों ने हर वर्ष अप्रैल माह में क्रिकेट प्रतियोगिता के आयोजन करने का फैसला लिया था। यह क्रिकेट प्रतियोगिता “शहीद लगन चंद मेमोरियल कप” नाम से जानी जाती है।

गत वर्ष की भांति इस बार भी 7 अप्रैल से 8900 फुट ऊंचाई पर स्थित तीर्थन घाटी के खुबसूरत स्थल भिंडी थाच में इस अनोखी दुसरी क्रिकेट प्रतियोगिता का आयोजन हुआ। ग्राम पंचायत शिल्ही के गरूली और परवाडी के समीप ऊंचे ऊंचे दरख्तों से घिरे इस विशाल मैदान को भिंडी थाच के नाम से जाना जाता है। यह थाच कुल्लू के ढालपुर मैदान से दो गुणा बढ़ा है। यहां तक पहुंचने के लिए सड़क मार्ग से करीब एक घंटा पैदल ट्रैक करना पड़ता है। इस मैदान में 7 अप्रैल से लगातार 24 दिनों तक चली इस मेमोरियल कप क्रिकेट प्रतियोगिता का शनिवार को विधिवत रूप से सफल समापन हो गया है।

कुल्लू जिला परिषद के अध्यक्ष पंकज परमार इस प्रतियोगिता के समापन अवसर पर बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित रहे है। स्थानीय लोगों द्वारा मुख्य अतिथि का पारंपरिक तरीके से स्वागत किया गया। इस अवसर पर जिला परिषद के सदस्य मान सिंह, कैप्टन लाल सिंह, कैप्टन लाल चंद, हवलदार शिवचंद विशेष रूप से उपस्थित रहे।

इस बार शहीद लगन चन्द मेमोरियल कप क्रिकेट प्रतियोगिता का ताज एके-47 टीम ग्राम पंचायत खनी खण्ड आनी के सिर पर सजा जबकि चैहनी वॉरियर्स ग्राम पंचायत चैहनी खण्ड बंजार की टीम इस प्रतियोगिता में उपविजेता रही। फाइनल मैच के इस रोमांचक मुकाबले में एके-47 खनी आनी की टीम ने चैहनी वॉरियर्स की टीम को शिकस्त देते हुए फाइनल मुकाबला अपने नाम कर लिया। महिला रस्साकसी के कड़े मुकाबले में स्वावलंबी महिला मण्डल गरूली प्रथम और शेषनाग महिला मंडल शिल्ली दुसरे स्थान पर रही। मुख्यातिथि पंकज परमार ने विजेता और उपविजेता टीम को बधाई दी व पुरस्कार देकर सम्मानित किया। इन्होंने खिलाडिय़ों की खेल भावना और स्थानीय खेलकूद एवं पर्यटन विकास समिति के प्रयासों की सराहना की है।
मुख्य अतिथि ने कहा
कहा कि ग्रामीण स्तर पर इस प्रकार की क्रिकेट स्पर्धा का आयोजन होने से गांव स्तर के खिलाड़ियों की छिपी हुई प्रतिभा निखर कर बाहर आती है। इन्होंने युवाओं को नशे से दूर रहते हुए खेलों में अपना सुनहरा भविष्य बनाने का आह्वान किया है। पंकज परमार ने जिला परिषद फंड से ग्राम पंचायत शिल्ही को एक लाख रुपए देने की घोषणा की है।

ग्राम पंचायत शिल्ही के उपप्रधान मोहर सिंह ठाकुर ने कहा कि पूरे क्षेत्र को शहीद लगन चंद की शहादत पर नाज है l उनकी याद में स्थानीय ग्राम पंचायत और यहां के युवक मंडलों ने क्रिकेट प्रतियोगिता करवाने का निर्णय लिया था, जिसकी शुरुआत गत वर्ष अप्रैल माह से ही की गई थी। मोहर सिंह ने बताया कि शहीद लगन चंद बहुत ही तेज-तर्रार लड़का था जो हमेशा गांव के अन्य युवकों को भी खेलकूद के लिए प्रोत्साहित करता रहता था। वह खुद भी बड़ी ही खेल भावना से क्रिकेट और वालीबॉल खेलता था जिस से प्रेरणा लेकर आज भी गांव के कई युवा नशे से दूर रह कर अपने आप को खेलकूद से फिट रख रहें है ताकि वे भी आइन्दा देश सेवा के लिए सेना में भर्ती हो सके। इन्होंने बताया कि शहीद की यादों को संजोए रखने के लिए भविष्य में भी हर वर्ष इस मेमोरियल कप क्रिकेट प्रतियोगिता का आयोजन होता रहेगा।

मोहर सिंह ठाकुर का कहना है कि इस प्रतियोगिता के आयोजन का मुख्य उद्देश्य एक ओर जहां युवाओं को नशे से दूर रहने तथा सेना में जाने के लिए प्रेरित करना है वहीं दुसरी ओर शहीद की यादों को संजोए रखना है। इसके अलावा शिल्ली पंचायत क्षेत्र के अनछुए और प्राकृतिक सौन्दर्य से भरपूर स्थलों को प्रकाश में लाना भी है ताकि इस क्षेत्र में भी पर्यटन व्यवसाय का आगाज हो सके।

स्थानीय खेलकूद एवं पर्यटन विकास समिति के अध्यक्ष रमेश कायथ ने बताया कि इस बार प्रतियोगिता में कुल 66 टीमों ने भाग लिया। इस प्रतियोगिता की विजेता टीम एके-47 ग्राम पंचायत खनी खण्ड आनी को प्रथम पुरस्कार के रूप में एक लाख ग्यारह हजार एक सौ ग्यारह 1,11,111 रुपये नगद और चाँदी जड़ित कप व किट तथा द्वितीय उपविजेता चैहनी वॉरियर्स की टीम को 55,555 रुपये नगद और कप मुख्य अतिथि द्वारा प्रदान किए गए है। इसके अलावा दलीप सिंह को मैन ऑफ द मैच, विशाल को मैन आफ द टूर्नामेंट, विकी को विकेटकीपर ऑफ टूर्नामेंट, अनु को बॉलर ऑफ द टूर्नामेंट से नवाजा गया। अन्य खिलाड़ियों को भी कई आकर्षक पुरस्कार और उपहार भी दिए गए। इन्होंने बताया कि पर्यावरण संरक्षण और फिटनेस का संदेश देती इस प्रतियोगिता में बीड़ी, सिगरेट, शराब व अन्य नशीले पदार्थो तथा पानी और अन्य पेय पदार्थों की प्लास्टिक बोतलों आदि पर पूर्ण रुप से प्रतिबंध रहा। हालांकि इस दौरान मेहमानों को जड़ी-बूटी युक्त चाय और स्थानीय व्यंजनों की सुविधा भी उपलब्ध करवाई गई।

स्थानीय युवाओं सोनू, रणजीत सिंह, संसार चंद, संजय दत्त, ईश्वर सिंह, केहर सिंह, बलवीर सिंह, हंसराज, गोविंद सिंह, बलदेव, प्रताप सिंह, सुरेश ठाकुर, लकी, डूर सिंह दीवान कायथ, बींटू सूर्यवंशी, दलीप सिंह, हरनाम ,पदम सिंह, कृष्ण कारदार, पवन कायथ , भोले दत्त, मनोहर लाल भोजू , अजय ठाकुर , लेदराम, देवराज आदि का कहना है कि वह इस प्रतियोगिता का आयोजन कर अपने साथी को सच्ची श्रद्धांजलि अर्पित करना चाहते हैं और भविष्य में भी इस प्रतियोगिता का आयोजन प्रतिवर्ष जारी रखेंगे। 24 दिनों तक चली इस प्रतियोगिता के सफल आयोजन में खेलकूद एवं पर्यटन विकास समिति के सदस्यों के साथ साथ गांव के इन युवकों का विशेष योगदान रहा।

ग्राम पंचायत शिल्ही की प्रधान शेतू देवी ने बताया कि इस प्रतियोगिता का उद्देश्य युवाओं को सेना में जाने तथा शारीरिक व मानसिक रूप से सक्षम बनाने के साथ-साथ पर्यावरण के संरक्षण और संवर्धन के प्रति चेतना विकसित करना भी है। इन्होंने कहा कि पहाड़ के शिखर पर कुछ हटकर इस प्रतियोगिता की शुरुआत की गई है। ग्रामीण स्तर पर यह अनूठा प्रयास है कि खिलाड़ियों के लिए रहने व ठहरने की समुचित व्यवस्था की गई है l इस दौरान क्रिकेट के साथ-साथ महिलाओं की रस्साकशी जैसी प्रतियोगिताएं भी आयोजित की गई है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।