सदवां को मिली उपतहसील की सौगात, लोगों ने मंत्री राकेश पठानिया का जताया आभार #news4
February 22nd, 2022 | Post by :- | 104 Views

नूरपुर : प्रदेश सरकार द्वारा नूरपूर विधानसभा क्षेत्र के सदवां को नई उपतहसील की सौगात देने पर क्षेत्र के साथ लगती पंचायतों के लोगों ने आज सदवां में  वन, युवा सेवाएं एवं खेल मंत्री राकेश पठानिया के सम्मान में नागरिक अभिनंदन समारोह का आयोजन किया। इस मौके पर एसडीएम अनिल भारद्वाज, डीएफओ विकल्प यादव, डीएसपी सुरेंद्र शर्मा, तहसीलदार सुरभि नेगी सहित बड़ी संख्या में स्थानीय लोग तथा विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे। सदवां पहुंचने से पहले नूरपुर से लेकर सभा स्थल तक लोगों ने वन मंत्री का गर्मजोशी के साथ स्वागत किया।  राकेश पठानिया ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि इस उपतहसील के बनने से क्षेत्र की 14 पंचायतों के लोगों को सीधा लाभ मिलेगा।, इससे जहां लोगों को राजस्व सम्बन्धी कार्यों के शीघ्र निपटारे में फायदा होगा, वहीं समय व धन की भी बचत होगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने जनकल्याण को सर्वोच्च प्राथमिकता देते हुए नई सोच व मजबूत इरादों के साथ अनेक महत्वकांक्षी योजनाएं और कार्यक्रम शुरू किए हैं। उन्होंने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार सेवा और समर्पण की भावना से कार्य कर रही है। प्रदेश सरकार ने अपने 4 वर्ष के कार्यकाल में समाज के गरीब, पिछड़े, वंचित तथा कमजोर वर्गों के लिए चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं को निश्चित समय में धरातल पर उतारने के लिए विशेष बल दिया है ताकि लक्षित वर्ग तक इन योजनाओं का लाभ पहुंच सके।

राकेश पठानिया ने सदवां को उपतहसील का तोहफा देने के लिए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर तथा मंत्रिमंडल का विशेष रूप से आभार व्यक्त किया।  उन्होंने विधानसभा क्षेत्र में विकास कार्यों बारे बताया कि पिछले 4 वर्षों के दौरान करोड़ों रुपए की विकास योजनाएं इस क्षेत्र के लिए स्वीकृत हुई हैं। उन्होंने बताया कि स्थानीय सिविल अस्पताल में बिस्तरों की संख्या को बढ़ा कर 200 करने के साथ यहां पर ऑक्सीजन प्लांट, न्यू एमरजैंसी ब्लॉक का शुभारंभ किया गया है जबकि 15 करोड़ रुपए की लागत से  बनने वाले मातृ-शिशु अस्पताल  तथा 10 करोड़ रुपए से तैयार होने वाले खेल स्टेडियम का  निर्माण कार्य युद्धस्तर पर जारी है।  उन्होंने बताया कि  क्षेत्र में अवैध कारोबार पर अंकुश लगाने के लिए सदवां में पुलिस चौकी खोलने के साथ नूरपुर में डीएसपी के पद को अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के रूप में स्तरोन्नत किया गया है। इसके अतितिक्त विकास खंड में नई पंचायतों का गठन करने सहित 4 नए पटवार घर खोले गए हैं। राकेश पठानिया ने कहा कि हर खेत को पानी और हर घर को नल से जल पहुंचाने के लिए वे प्रयासरत हैं। जिसके लिए लगभग 737 करोड़ रुपए की लागत से बन रही महत्वाकांक्षी फिंन्ना सिंह सिंचाई परियोजना का कार्य अंतिम चरण में है जबकि क्षेत्र की कई पंचायतों में करोड़ों रुपए की लागत से चेकडैम का निर्माण  किया जा रहा है। इसके अतिरिक्त पेयजल की समस्या से निजात दिलाने के लिए करोड़ों रुपए की योजनाओं पर कार्य जारी है।

वन मंत्री ने बताया कि सदवां के साथ लगते क्षेत्र के किसानों की सुविधा के लिए वे जल्द ही यहां पर किसान मंडी खुलवाने के लिए प्रयासरत है ताकि इस क्षेत्र के किसानों-बागवानों को लाभ मिल सके।  उन्होंने बताया कि सदवां में नए उपतहसील भवन के लिए 30 लाख रुपए की राशि स्वीकृत की जा चुकी है, जिसका निर्माण कार्य शीघ्र शुरू कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि आवारा पशुओं से खेती को होने वाले नुक्सान से बचाने के लिए सुल्लयाली में गौ सदन के निर्माण हेतु 100 कनाल भूमि चिन्हित की गई है ताकि सड़कों पर घूमने वाले इन पशुओं को आसरा मिलने के साथ इनके कारण खेती को होने वाले नुक्सान से भी राहत मिल सके। उन्होंने लोगों से पशुओं को सड़कों पर न छोड़ने का आग्रह करते हुए गौवंश को बचाने की भी अपील की।

इससे पहले स्थानीय पंचायत प्रधान पवन कुमार ने मुख्यातिथि को पंचायत की विभिन्न मांगों बारे अवगत करवाया। वहीं सुल्लयाली के उपप्रधान नरेश शर्मा, सदवां के बीडीसी सदस्य राकेश शर्मा (कुकी) तथा प्रदेश भाजपा कार्यकारिणी सदस्य रविंद्र चौधरी ने भी अपने विचार व्यक्त किए। इस मौके पर नगर परिषद अध्यक्ष अशोक शर्मा, मंडल अध्यक्ष कुलदीप पाठक, महिला मोर्चा की अध्यक्षा दीक्षा पठानिया, भाजयुमो प्रदेश सचिव भवानी पठानिया, बीडीसी सदस्य राकेश शर्मा (कुकी) सदवां पंचायत के प्रधान पवन कुमार तथा प्रदेश भाजपा कार्यकारिणी सदस्य रविंद्र चौधरी सहित विभिन्न पंचायतों के प्रतिनिधि व अन्य गण्यमान्य लोग उपस्थित रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।