सरकार ने कर्मचारियों को जारी किया फरमान, प्रदर्शन किया तो जाएगी नौकरी, विरोध में विपक्ष ने किया वाकआउट #news4
February 25th, 2022 | Post by :- | 203 Views

शिमला : मांगों को लेकर प्रदर्शन और हड़ताल करने वाले कर्मचारियों से अब सरकार परेशान हो गई और सरकार अब कर्मचारियों के लिए सख्त हो रही है। प्रदर्शन और हड़ताल करने वाले कर्मचारियों के लिए सरकार ने अब नए नया फरमान जारी कर दिया है। सरकार ने कर्मचारियों को चेतावनी जारी की है और स्पष्ट तौर सिविल सर्विस रूल्स 3 और 7 का हवाला देते हुए आदेश जारी किए हैं कि प्रदर्शन, बहिष्कार, पेन डाउन स्ट्राइक और इस तरह की अन्य गतिविधियों में शामिल सरकारी कर्मचारियों का वेतन काटने के साथ सस्पेंड और नौकरी से निकाला जा सकता है। वहीं ऐसे कर्मचारियों पर अपराधिक मामला भी दर्ज किया जा सकता है। इसके पूर्व सीएम जयराम भी कर्मचारियों के प्रदर्शन और हड़ताल पर अपनी नाराजगी व्यक्त कर चुके हैं।

कर्मचारियों के विरोध में सरकार द्वारा जारी किए इस फरमान के विरोध में विपक्ष ने विधान सभा सदन में नारेबाजी कर वाकआउट किया और सरकार के इस निर्णय को तानाशाही करार दिया। नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि सरकार कर्मचारियों के संवैधानिक अधिकार का हनन कर रही है जिसे विपक्ष सहन नहीं करेगा। मांगों को लेकर प्रर्दशन करना कर्मचारियो का हक है जिसे सरकार छीन नही सकती।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।