जिला कांगड़ा में फलों के राजा को तेलिया रोग लगा निचोड़ने #news4
April 22nd, 2022 | Post by :- | 59 Views

जिला कांगड़ा में फलों के राजा आम की नगरी जवाली, नूरपुर, इंदौरा व फतेहपुर में आम के रस को तेलिया रोग निचोड़ रहा है। तेलिया रोग के चलते आम के पेड़ों के नीचे चिप-चिप हो रही है। आमों के नीचे व पतों पर ऐसा लगता है कि मानो रस गिराया गया हो।आमों को तेलिया रोग लगने से बागवान काफी हताश हैं तथा उनके माथे पर मायूसी की लकीरें साफ झलक रही हैं। तेलिया रोग ने बागवानों की उम्मीदों पर पानी फेर दिया है। उक्त इलाकों में इस बार आम की बंपर फसल होने के कयास लगाए जा रहे थे तथा बागवान भी शुरूआत में पेड़ों पर आई बौर को देखकर काफी खुश थे। बागवानों का मानना था कि इस बार आम की बंपर फसल होने के कारण आय भी अच्छी होगी तथा बैंकों का कर्ज भी भर पाएंगे। इन इलाकों में लोगों की आय का एकमात्र साधन आम के फल बेचना ही है।

अधिकतर लोगों ने आमों के बाग लगा रखे हैं तथा आमों को बेचकर ही अपनी आय कमाते हैं। ज्वाली के गांव रजोल के बागवानके.डी. हिमाचली ने कहा कि पहले आमों को दवाई का छिड़काव किया तथा फसल की रखवाली की। अब तेलिया रोग लगने से आम के खरीददार ही नहीं मिल रहे हैं। भाली गांव के बागवान एस. के. शर्मा का कहना है कि क्षेत्रों में कृषि के बाद बागवानी किसानों की आर्थिकी का दूसरा मुख्य साधन है। तेलिया रोग के प्रकोप से भयभीत बागवान जीविका कमाने के लिए पंजाब व दूसरे अन्य राज्यों में पलायन कर रहे हैं ताकि अपने परिवार के लिए पालन पोषण कर सकें। प्रभावित बागवानों रमेश चंद, केडी हिमाचली, विजय कुमार , महिन्द्र सिंह, लालचंद, करनैल सिंह, पुन्नू राम, सोहन सिंह, अमर सिंह, रमेश चंद,चैन सिंह, एसके शर्मा इत्यादि ने हिमाचल सरकार व बागवानी विभाग से मांग की है कि विशेषज्ञ अधिकारी निरीक्षण आम के पौधों का निरीक्षण करके इस तेलिया रोग से आमों को बचाएं तथा प्रभावित बागवानों को उचित मुआवजा दिया जाए।

बागवानों ने कहा कि कोटला में उद्यान विभाग के कार्यालय में स्टाफ का अभाव है जिस कारण बागवान को कोटला से नगरोटासूरियां जाने के लिए लगभग 70 से 80 किलोमीटर की दूरी का सफर तय करके जाना पड़ता है। इस बारे में उपनिदेशक उद्यान विभाग धर्मशाला कमल सिंह नेगी से बात की गई तो उन्होंने बताया कि वेमौसमी गर्मी व लंबे सूखे के कारण आम को तेलिया रोग हुआ है। उन्होंने कहा कि जिन बागवानों को इसका नुकसान हुआ है वे नगरोटासूरियां ब्लाक कार्यालय में जाएं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।