आइजीएमसी में पीठ पर ले जाने पड़े मरीज #news4
April 28th, 2022 | Post by :- | 366 Views

शिमला : राज्य के सबसे बड़े अस्पताल आइजीएमसी शिमला में वीरवार सुबह से लेकर शाम तक मुख्य लिफ्ट खराब रही। इस कारण अपने दम पर न चल पाने वाले मरीजों व उनके स्वजन को काफी दिक्कत हुई। मरीजों को पहली से पांचवीं या छठी मंजिल तक पहुंचाने के लिए पीठ पर ले जाना पड़ा। कई बार मरीज को रास्ते में उतार कर खुद भी आराम करने की नौबत आई। कई मरीजों को दो से चार बार इस असुविधा से जूझना पड़़ा।

गर्मी में छह मंजिल की सीढि़यां पीठ पर बोझ उठाकर किसी को भी पस्त कर सकती हैं। शाम तक प्रशासन की ओर से लिफ्ट को ठीक नहीं करवाया गया था। हालांकि इसके लिए तकनीकी स्टाफ काम में लगा था लेकिन सफलता नहीं मिल सकी। आइजीएमसी में ओपीडी व वार्ड के ठीक सामने लगी लिफ्ट की सुविधा मरीजों को पूरा दिन नहीं मिल सकी। हालांकि अस्पताल में पहले भी कई बार लिफ्ट खराब होती रही है। वीरवार को पूरा दिन गर्मी के दिनों में खराब लिफ्ट में मरीज व स्वजन दोनों को खासा परेशान किया। मरीज को ओपीडी या फिर वार्ड से कोई टेस्ट करवाने के लिए वीरवार को स्वजन की खूब परेड हुई। गंभीर मरीजों को उनके स्वजन द्वारा पीठ पर उठाकर ओपीडी तक पहुंचाना पड़ा। मरीजों के साथ आए स्वजन को यह डर था कि इलाज करवाने में देर न हो और डाक्टर कहीं ओपीडी से न चले जाएं।

तकनीकी खराबी के कारण लिफ्ट खराब हो गई थी जिसे ठीक करवाने के आदेश दिए गए हैं। तकनीकी स्टाफ काम कर रहा है। लिफ्ट जल्द ठीक करवाकर लोगों को सुविधा दी जाएगी।

-डा. जनक राज, एमएस, आइजीएमसी शिमला

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।